दिल्ली रोड बायपास पर मिला रेहड़ी संचालक का शव, दो फाइनेंसर समेत पांच पर हत्या का केस दर्ज
July 26th, 2020 | Post by :- | 49 Views

हिसार लवकेश कथुरिया  गर्वनमेंट   रौौ कॉलोनी निवासी  50 वर्षीय फूल सिंह का शव शुक्रवार सुबह दिल्ली बाईपास पर एमजी क्लब के पास सड़क किनारे मिला। सूचना मिलने पर संबंधित थाना पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर जांच शुरू की।पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों के हवाले कर दिया। मिलगेट थाना पुलिस ने मृतक फूल सिंह के बेटे अमित की शिकायत पर मोनू सैनी, संदीप लांबा, यश, रोबिन और अशोक ग्रोवर समेत पांच के खिलाफ धारा 302, 341, 506, 148 और 149 के तहत केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. फूल सिंह ने करीब तीन दिन पूर्व ही मक्का की रेहड़ी लगानी शुरू की थी। बेटे अमित ने बताया कि उसके पिता फूल सिंह हर रोज की तरह 23 जुलाई को भी सुबह करीब पांच बजे मंडी में मक्का खरीदने गए थे। उसके बाद बरवाला रोड पर थाने के पास सड़क पर मक्का बेच रहे थे। अमित ने बताया कि उसे पिता हर रोज शाम करीब सात बजे घर लौट आते थे, लेकिन वीरवार रात वह घर नहीं पहुंचे। तलाश में परिजनों ने पूरा शहर छाना, लेकिन वे नहीं मिले।

अमित ने बताया कि शुक्रवार सुबह वह अपने भाई प्रवीण के साथ पिता को ढूंढते हुए दिल्ली बाईपास पर पहुंचा तो यहां उसके पिता सड़क किनारे झाड़ियों में मृत पड़े थे। उनके शव के ऊपर उनकी रेहड़ी पड़ी थी और उनके के सिर व माथे पर चोट के निशान थे।

अमित ने बताया कि उसके पिता ने फाइनेंसर मोनू सैनी व संदीप लांबा से कुछ समय पूर्व 70 हजार रुपये ब्याज पर लिए थे। अमित ने बताया कि उसी को लेकर उसके छोटे भाई सोनू के पास भी संदीप का फोन आया था कि उसके पिता रुपये वापस नहीं दे रहे। अमित का आरोप है कि मोनू सैनी व मिलगेट वासी यश ने भी उन्हें मारने की धमकी दी थी। आरोप है कि उन्होंने प्रवीण को भी कई बार रास्ते में रोका था। पुलिस मामले की जांच कर रही है जांच के बाद ही हत्या के असली कारण का पता चल पाएगा.

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।