11 राज्यों में नशीली गोलियां का कारोबार करने वाले आगरा गैंग के तार जुड़े जंडियाला गुरु के मेडिकल स्टोर से ।
July 25th, 2020 | Post by :- | 338 Views
11 राज्यो में नशीली गोलियां का कारोबार करने वाले आगरा गैंग के तार जुड़े जंडियाला गुरु के एक मेडिकल स्टोर से ,

जांच में हो सकते बड़े खुलासे ।
जंडियाला गुरु कुलजीत सिंह
कल बरनाला पुलिस द्वारा 11 राज्यों में नशीली गोलियों का कारोबार करने वाले आगरा गैंग  का पर्दाफाश किया था ।आगरा गैंग तार जंडियाला गुरु के एक  सार्थ नाम के मेडिकल स्टोर के साथ भी जुड़े हुए हैं जिस पर जंडियाला गुरु की पुलिस औऱ बरनाला पुलिस ने गत मंगलवार को छापेमारी की थी  जिसमें पुलिस ने भारी मात्रा में  नशीली गोलियां और तलाशी लेने पर घर से लाखों की नगदी बरामद की ।
बता दे कि जंडियाला गुरु नशीली गोलियों की बिक्री का मामला पहले भी मीडिया में चर्चा का विषय बना रहा  ।क्योंकि ड्रग विभाग द्वारा चैकिंग में ढील और नियमों को पूरी तरह से लागू ना करने के चलते यह कारोबार फलफूल रहा है ।इसी के चलते नशीली गोलियों के कारोबार इसे बेचकर खूब मालामाल हो रहें है ।
जंडियाला गुरु के सार्थ नामक मेडिकल स्टोर के आगरा गैंग से जुड़े होने के कारण अन्य मेडिकल स्टोर में हड़कंप मच गया है ।गुप्त सूत्रों के मुताबिक जंडियाला गुरु के कुछ अन्य मेडिकल स्टोर है जो इस नशे की गोलियों के कारोबार से जुड़े हुए हैं । जबकि ड्रग एंड कॉस्मेटिक एक्ट के अनुसार हर मैडिकल स्टोर  के पास अगर नशीली गोलियों का स्टॉक है तो वह अपनी दुकान के मेन जगह पर बोर्ड टांग कर उसका रिकॉर्ड लिखना होता है और किस डॉक्टर की पर्ची पर वो दवाई दी गई है उसका भी रिकॉर्ड रखना अनिवार्य होता है। लेकिन चंद मेडिकल स्टोर को छोड़कर बाकी नियमों का पालन नही करते ।
नशे की गोलियों में मुख्य तौर पर जो गोलियां होती है उनके एस आर साल्ट होता है चाहे वो टरामडोल हो या अन्य क्योकि एस आर साल्ट से बनी गोलियां का इस्तेमाल नशे के लिए इस्तेमाल होता है। इनकी 10 गोलियां की कीमत 25 रुपये के आसपास होती है जो 200 रुपये से लेकर 250 रुपये तक बेची जाती  है ।इनकी नशे की लत भी इतनी बुरी होती है कि जो व्यक्ति इन पर निर्भर हो जाता है वह इनका इस्तेमाल किये बिना अपनी रोज़मर्रा ज़िंदगी मे बिस्तर से उठना भी मुश्किल होता है ।इस नशे की लत से कई युवकों को मौत ने  अपनी आगोश में  समा लिया है। कई घरों के चिराग ,कई माताओं के बेटे और कई पत्नियों ने अपना पति खो दिया है।
इस मामले अमृतसर जिला के ड्रग इंस्पेक्टर  अमरपाल  सिंह मल्ली से बात की गई तो उन्होंने कहा कि वह भी इस मामले को लेकर  जंडियाला गुरु में अपनी टीम के साथ चेकिंग करेंगे और जो भी मेडिकल नियमों की अनदेखी करेगा उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होगी।
ड्रग एंड फ़ूड कमिश्नर काहन सिंह पन्नू ने कहा कि यह ड्रग का मुद्दा गंभीर है ,सरकार और विभाग पुलिस के साथ मिलकर काम कर रहें ।पंजाब में जो भी मेडिकल स्टोर इन नशीली गोलियों की बिक्री बिना किसी डॉक्टर की पर्ची और दवाओं का रिकॉर्ड  नही रखेगा ।उसके खिलाफ सख्त से सख्त कारवाई की जाएगी ।
फ़ोटो कैप्शन :काहन सिंह पन्नू की तस्वीर ।
रेड की गई दुकान की।तस्वीर ।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।