शारीरिक क्षमता और दक्षता बढ़ाने में आयुर्वेदिक पद्घति बहुत ही लाभदायक-:-डी.सी.।
July 24th, 2020 | Post by :- | 24 Views

अम्बाला:(अशोक शर्मा)
शारीरिक क्षमता बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक पद्घति हमेशा से ही सहायक सिद्घ हुई है। बदलते परिवेश में कोविड-19 के दृष्टिïगत देखा जाए तो आयुष विभाग द्वारा वितरित की जा रही आयुर्वेदिक औषधियों का लोग काफी उपयोग और प्रयोग कर रहे हैं। विभाग द्वारा दवाओं को वितरित करने के साथ-साथ लोगों को जागरूक करने का काम निरंतरता में जारी रहना चाहिए। यह बात डी.सी. अशोक कुमार शर्मा ने आज अपने कार्यालय में जिला स्तर पर आयुष सोसायटी गठित करने के विषय पर आयोजित बैठक में अधिकारियों को सम्बोधित करते हुए कही।
उपायुक्त ने कहा कि सम्बन्धित सोसायटी में गठित टीम द्वारा बेहतर समन्वय के साथ आयुष पद्धति के बारे जागरूक करते हुए उसको बढ़ावा मिले इस दिशा में कार्य करना है। कोविड-19 के दृष्टिगत रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में आयुष विभाग द्वारा विभिन्न गतिविधियों के माध्यम से लोगों को जागरूक किया गया है, वह इसे निरंतरता में जारी रखें। बदलते परिवेश में देखा जाए तो आयुर्वेदिक औषधियों की अपेक्षाकृत मांग अधिक बढ़ी है। लोग आयुर्वेदिक औषधियों का काढ़ा उपयोग में ला रहे हैं।
जिला आयुर्वेदिक अधिकारी डा0 सतपाल ने बताया कि जिला स्तर पर गठित आयुष सोसायटी के अध्यक्ष नियमानुसार उपायुक्त ही हैं। इसके अलावा सात मैंबर भी शामिल हैं जिनमें सदस्य सचिव जिला आयुर्वेदिक अधिकारी, कार्यकारी अभियंता पंचायती राज, कार्यकारी अभियंता लोक निर्माण विभाग, आयुष विभाग के सीनियर डॉक्टर के अलावा नीमा प्राईवेट एसोसिएशन के प्रतिनिधि शामिल रहेंगे। उन्होंने बैठक में कहा कि मिले निदेशों की अनुपालना में पहले से ही काम जारी है।
उपायुक्त को आश्वासन देते हुए उन्होंने कहा कि विभागीय गतिविधियों को जन-जन तक पंहुचाने में हम पहले से ही कार्य कर रहे हैं। कुछ समय पूर्व हरियाणा के गृह, स्वास्थ्य एवं आयुष मंत्री अनिल विज ने प्रचार वाहन को झंडी देकर रवाना किया था। प्रचार वाहन से जिला के सभी गांव कवर किए जा चुके हैं। आयुर्वेदिक पद्घति पर डीआईपीआरओ धर्मवीर सिंह द्वारा लिखा एक सोंग भी चलाया गया जोकि न किवल जिला अम्बाला में बल्कि समूचे हरियाणा प्रदेश में चला। इस सोंग को भी गृह, स्वास्थ्य एवं आयुष मंत्री अनिल विज ने ही लॉंच किया था। उन्होंने यह भी बताया कि जिला स्थित सभी विभागों में गिलोए की वटियां और अणु का तेल वितरित किया गया है। इस मौके पर जिला आयुर्वेदिक अधिकारी के साथ-साथ अन्य अधिकारीगण मौजूद रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।