भाजपा सरकार की तरह उसके अनुष्ठान भी भूले अपने वादे :लोकमणि कांत
July 24th, 2020 | Post by :- | 37 Views

मथुरा,(राजकुमार गुप्ता)समाजवादी पार्टी के जिला अध्यक्ष श्री लोक मणिकांत जादौन जी के नेतृत्व में गांव भैंसा में राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अखिलेश यादव के आह्वान वितरण को लेकर जब गांव पहुंचे वहां के लोगों ने समस्या से अवगत कराया |
इस मौके पर जिलाध्यक्ष ने कहा जिस प्रकार से केंद्र सरकार ने अपने वादों को भूले हैं, उसी प्रकार उनके नवरत्न कंपनियों में से एक इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन भी अपने वादों को भूलती जा रही है | इस गांव के लोगों ने अपनी पैतृक जमीन देखकर इस अनुष्ठान को लगवाया था तब इस कंपनी का उद्देश्यों में आसपास के क्षेत्र का विकास भी शामिल था इसी के तहत उन्होंने गांव भैंसा को गोद लिया था और गांव की हर समस्या को हल करने का वादा किया था परंतु आज गांव में पीने के पानी की अत्यंत समस्या है जिसे ना तो जानवर पी सकते हैं ना जनमानस इसी प्रकार गांव की सड़क की समस्या जो जर्जर हालत में हैं एक पुराना रास्ता हुआ करता था बंद कर दिया गया और दूसरा रास्ता है परंतु आए दिन उस रास्ते पर रिफाइनरी के टैंकरों के कारण दुर्घटना होती हैं और काफी लंबा पड़ता भी है, गांव में सड़क बदहाली हालत में हैं नालियों का अता पता नहीं जिसकी वजह से गांव में कीचड़ होती है और बीमारियां फैलती हैं एवं जो पहले कभी रिफाइनरी द्वारा समय-समय पर स्वास्थ्य निरीक्षण किया जाता था इन गांवों में अब पूर्णतया बंद किया जा चुका है | भाजपा की केंद्र सरकार के अधीनस्थ यह रिफाइनरी अब सिर्फ क्या लाभ कमाने के लिए ही रह गई है जिसका उद्देश्य कभी जनसेवा का हुआ करता था |
इस मौके पर सपा ज़िला उपाध्यक्ष तुलसीराम धनगर, ठाकुर चंद्रशेखर ,महिला सभा की जिलाध्यक्ष डॉ. साधना शर्मा, डॉ आजाद ,सपा युवजन सभा के जिलाध्यक्ष संजय यादव, पंकज ठाकुर ,रवि ठाकुर ,राघवेंद्र ,कालीचरण , ब्रजकिशोर जयपाल सिंह रंजीत वीरेंद्र खेमा सिंह हरपाल जगन्नाथ, गोपाल, प्रेम सिंह ,बाबूलाल ,रतन सिंह ,रामेश्वर , रूपकिशोर, रामबाबू ,भूरी लाल ,चरण सिंह ,खेमचंद, ब्रिज विहार, अवधेश, नेत्रपाल आदि लोग उपस्थित रहे | संचालन श्री पहलाद यादव जी ने किया |

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।