पिहोवा और इस्माईलाबाद के विकास में मील का पत्थर साबित होगा राष्ट्रीय राजमार्ग 152डी:संदीप सिंह
July 21st, 2020 | Post by :- | 111 Views
कुरुक्षेत्र । हरियाणा के खेल एवं युवा मामले मंत्री संदीप सिंह ने कहा कि इस्माईलाबाद से नारनौल तक बन रहे राष्टï्रीय राजमार्ग संख्या 152डी इकॉनोमिक कॉरिडोर के रुप में जानी जाएगी। इस राष्टï्रीय राजमार्ग के जरिए कोटपुतली से लेकर अम्बाला तक कई बड़े शहर जुड़ जाएंगे जहां पर बड़े उद्योग-धंधे है। इस इकॉनोमिक कॉरिडोर के मार्ग पर पिहोवा और इस्माईलाबाद का 16 किलोमीटर का क्षेत्र शामिल है। इस राष्टï्रीय राजमार्ग से जुडऩे के बाद पिहोवा और इस्माईलाबाद विकास की राह में तेजी के साथ आगे बढ़ेंगे और यहां पर रोजगार के अवसर भी पैदा होंगे। इसलिए यह राष्टï्रीय राजमार्ग पिहोवा और इस्माईलाबाद के विकास में मील का पत्थर साबित होगा।
खेलमंत्री संदीप सिंह ने बातचीत करते हुए कहा कि अम्बाला से कोटपुतली इकॉनोमिक  कॉरिडोर के तहत इस्माईलाबाद से नारनौल तक राष्टï्रीय राजमार्ग संख्या 152डी का निर्माण किया जा रहा है। इस राष्टï्रीय राजमार्ग को सिक्स लैन का बनाने पर केन्द्र सरकार की तरफ से 8650 करोड़ रुपए की राशि खर्च की जाएगी। इस राष्टï्रीय राजमार्ग की लम्बाई 230 किलोमीटर की होगी। इस राष्टï्रीय राजमार्ग का गांव गंगहेड़ी से लेकर सारसा तक 16 किलोमीटर का हिस्सा पिहोवा हल्के में आता है और इस मार्ग पर पिहोवा हल्के के 11 गांव जुड़ गए है। इस राष्टï्रीय राजमार्ग पर 11 गांवों के जिन किसानों की जमीन का अधिग्रहण किया गया है, उन किसानों के खाते में 211 करोड़ रुपए की राशि जमा करवाई जाएगी। इसमें से 180 करोड़ रुपए की राशि किसानों के खाते में जमा करवाई जा चुकी है। इस हल्के में राष्टï्रीय राजमार्ग का 10 प्रतिशत काम पूरा हो चुका है और कम्पनी की तरफ से जनवरी 2022 तक सडक़ का निर्माण कार्य पूरा कर लिया जाएगा।
उन्होंने कहा कि इस्माईलाबाद से नारनौल तक राष्टï्रीय राजमार्ग 152डी में 23 किलोमीटर का हिस्सा कुरुक्षेत्र व कैथल जिले में आता है। इस्माईलाबाद के गांव गंगहेड़ी से ढांड कौल तक राष्टï्रीय राजमार्ग का निर्माण होगा। इस मार्ग पर 54 स्ट्रक्चर बनाए जाएंगे और इस राष्टï्रीय राजमार्ग पर गंगहेड़ी, मुर्तजापुर और ढांड के पास चंदलाना गांव पर ही एक्सैस दिया गया है यानि इन 3 जगहों से ही राष्टï्रीय राजमार्ग पर प्रवेश और बाहर निकल सकेंगे। इसके अलावा गांव सैंसा सरस्वती कैनाल और गांव कौल के प्राचीन मंदिर के पास 2 बड़े पुल बनाए जाएंगे, गांव पबनावा के पास आरओबी रेलवे ओवरब्रिज का निर्माण किया जाएगा, नहरों और 11 पुलियों के उपर से मार्ग बनाया जाएगा। यह राष्टï्रीय राजमार्ग सिक्स लैन का होगा।
उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार की तरफ से हरियाणा में भारत-माला परियोजना के तहत आने वाले 2 सालों में 2 लाख करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। इसमें से अधिकतर राशि भूमि अधिग्रहण करने पर खर्च की जाएगी और यह राशि सीधा किसानों के खातों में जमा होगी। इससे किसानों की आर्थिक स्थिति मजबूत होगी, किसान खुशहाल होंगे। जब हरियाणा के किसान खुशहाल होंगे तो निश्चित ही हरियाणा एक खुशहाल राज्य के रुप में पहचान बनाएगा। इससे जीडीपी में इजाफा होगा और परकैप्टा इंकम में भी बढौतरी होगी। उन्होंने कहा कि इस्माईलाबाद से नारनौल राष्टï्रीय राजमार्ग के निर्माण होने से उतर और दक्षिण हरियाणा एक सूत्र में बंध जाएंगे। इससे कुरुक्षेत्र ही नहीं राष्टï्रीय राजमार्ग पर आने वाले सभी जिलों का विकास होगा, रोजगार के अवसर पैदा होंगे और युवाओं को रोजगार मिलेगा। उन्होंने केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी व मुख्यमंत्री मनोहर लाल का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि सरकार के प्रयासों से हरियाणा में सडक़ों का जाल बिछ रहा है, इससे हरियाणा प्रदेश दिन दौगुनी-रात चौगुनी उन्नति करेगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।