2022 तक देश के किसानों की आमदनी को किया जाएगा दोगुणा: जे पी दलाल , बागवानी उत्कृष्टïता केंद्र का किया निरीक्षण
July 20th, 2020 | Post by :- | 171 Views
होडल, (मधुसूदन भारद्वाज): हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री जयप्रकाश दलाल ने रविवार को डबचिक केंद्र के निकट स्थित बागवानी उत्कृष्टïता केंद्र का दौरा किया। उन्होंने पलवल के गांव नांगल ब्राह्मण में मशरूम की खेती व गांव असावटा में अमरूद के खेती का भी अवलोकन किया। इस अवसर पर पलवल के विधायक दीपक मंगला, विधायक जगदीश नायर, प्रवीण डागर, भाजपा जिलाध्यक्ष जवाहर सिंह सौरोत, मेहरचंद गहलौत, मिशन निदेशक हरियाणा राज्य बागवानी विकास ऐजंसी डा. भगत सिंह सहरावत, पलवल के एसडीएम कंवर सिंह, होडल के एसडीएम अमरदीप सिंह, हथीन के एसडीएम वकील अहमद, संयुक्त निदेशक बागवानी विभाग हरियाणा डा. धर्मसिंह यादव, जिला उद्यान अधिकारी अब्दुल रज्जाक,नायब तहसीलदार इब्राहिम,जिला उद्यान अधिकारी अब्दुल रज्जाक सहित अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद थे। यहां कृषि मंत्री जयप्रकाश दलाल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विजन है कि वर्ष 2022 तक देश के किसानों की आमदनी को दोगुणा किया जाए। उन्होंने कहा कि किसानों को फल, फूल, सब्जियों की खेती करने के लिए अनुदान दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में बागवानी को बढावा देने के लिए सरकार द्वारा प्रत्येक जिले में बागवानी उत्कृष्टïता केंद्र खोलने की योजना तैयार की जा रही है।
उन्होंने कहा कि पलवल जिले के गांव नांगल ब्राह्मïण में प्रगतिशील किसान द्वारा 2 करोड़ रूपए की लागत से मशरूम का प्रोजेक्ट लगाया हुआ है। जिसके माध्यम से करीब 50 से 60 लाख रूपए वार्षिक की आमदनी प्राप्त की जा सकती है। मशरूम का प्रोजेक्ट लगाने पर किसानों को सस्ती दरों पर बिजली उपलब्ध करवाई जाएगी। कृषि मंत्री ने एकीकृत बागवानी विकास केन्द्र पर स्थित हाईटेक पोली हाउस का अवलोकन करते हुए पोली हाउस में लगाई गई पौध (फूलगोभी, पत्ता गोभी, शिमला मिर्च व टमाटर ) के बारे में चर्चा की व केन्द्र पर स्थित अधिकारियों को निर्देश दिए कि अबकि बार सरकार ने पलवल जिले में 5000 एकड क्षेत्र में बाग लगवाने का लक्ष्य रखा है। इसके लिए अच्छी गुणवत्ता की पौध किसानों को केन्द्र पर तैयार करके उपलब्ध कराई जाए। इसके लिए मंत्री ने किसानों से आग्रह किया कि वे बाग लगाने मे रूचि लें, जिससे की आपकी आय को दोगुना करने के लिए सरकार के सपने को साकार किया जा सके।
* प्रदेश में समाप्त नहीं होंगी मार्केट कमेटी *
उन्होंने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि प्रदेश में मार्केट कमेटी समाप्त नहीं की जाएंगी। ओलावृष्टि से नष्ट हुई फसलों का मुआवजा दिया जाएगा। अब प्रदेश का कोई भी किसान गांव की चौपाल से लेकर अनाज मंडी में बिक्री कर सकता है। उन्होंने युवा किसानों से कहा कि वह रोजगार मांगने के वजाय दूसरों को रोजगार देने वाले बनें। कृषि मंत्री   ने कहा कि युवाओं को भी बागवानी, पशुपालन, मत्सय पालन की तरफ रूझान करना चाहिए। कृषि मंत्री जयप्रकाश दलाल ने कहा कि किसानों को रसायनिक खादों की बजाय जैविक खेती करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि युवाओं को स्वरोजगार अपनाना चाहिए ताकि वे औरों को भी रोजगार प्रदान कर सकें। इसके बाद कृषि मंत्री जयप्रकाश दलाल ने गांव बहीन स्थित दादा कान्हा रावत पार्क में पौधारोपण किया और गौशाला का अवलोकन भी किया। इस अवसर पर प्रगतिशील किसान क्लब पलवल के अध्यक्ष बिजेंद्र दलाल,  पवन अग्रवाल, राधेश्याम कालडा, सूरज पांडे,जगमोहन गोयल, रमेश चंद गर्ग,राजकुमार तायल,मनोज सौरोज,प्रेमराज तंवर,राहुल नायर, राजकुमार रावत, आदि मौजूद थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।