भाजपा में शामिल नहीं होंगे सचिन पायलट ने कहा- पिछले 5 साल के दौरान मैंने भाजपा के खिलाफ लड़ी लंबी लड़ाई
July 15th, 2020 | Post by :- | 32 Views

जयपुर,(सुरेन्द्र कुमार सोनी) । राज्य में कांग्रेस अध्यक्ष और उपमुख्यमंत्री पद से बर्खास्त किए जाने के बाद सचिन पायलट ने अपनी चुप्पी तोड़ दी है। आज मीडिया से बातचीत के दौरान सचिन पायलट ने कहा कि मैं कई बार कह चुका हूं कि भारतीय जनता पार्टी ज्वॉइन नहीं कर रहा हूं। पिछले 5 साल के दौरान मैंने भाजपा के खिलाफ लंबी लड़ाई लड़ी है।
बातचीत के दौरान सचिन पायलट ने कहा कि मैं राजस्थान कांग्रेस का भाग रहते हुए बीजेपी के खिलाफ लड़ाई लड़ी है और राजस्थान में कांग्रेस सरकार बनवाई है। यदि कोई व्यक्ति या पार्टी राजनीतिक फायदा उठाने की कोशिश कर रही है तो यह नहीं माना जा सकता है कि मैं उनसे जुड़ जाऊंगा।
सचिन पायलट ने कहा कि जो लोग कह रहे हैं कि मैं बीजेपी में शामिल होने वाला हूं, वो मेरी छवि को धूमिल करने की कोशिश कर रहे हैं। मैंने उकसावे और पद छीनने के बावजूद पार्टी के खिलाफ एक भी शब्द नहीं कहा है। हम भविष्य के लिए अपनी रणनीति तय करने जा रहे हैं।
*राजस्थान प्रदेश में लगातार सियासी उठापटक है जारी:
सचिन पायलट सहित दो मंत्रियों की बर्खास्तगी के बाद अब कांग्रेस पार्टी ने बगावती विधायकों को नोटिस जारी करना शुरू कर दिया है। मुख्य सचेतक महेश जोशी ने विधानसभा अध्यक्ष को इसकी सूचना दी है।बअब विधायकों को व्यक्तिगत रूप से सफाई देनी होगी। संतोषजनक उत्तर ना देने पर विधायकों की सदस्यता भी रद्द हो सकती है। इसके साथ ही ऐसे विधायकों के निर्वाचन क्षेत्र में उपचुनाव के लिए उपयुक्त उम्मीदवार की खोज शुरू होगी। 
*विधायकों को दो दिन का दिया गया है समय:
विधानसभा सचिवालय के सचिव प्रमिल कुमार माथुर की ओर से जारी किए गए इस नोटिस में स्पष्ट रूप से लिखा गया है कि वे 17 जुलाई को दोपहर 1 बजे विधानसभा अध्यक्ष के सामने पेश होकर बागी विधायक अपना पक्ष रखें। यही नहीं नोटिस में इस बात का भी स्पष्ट उल्लेख किया गया है कि यदि विधायक पेश नहीं होते हैं तो उनके खिलाफ एकपक्षीय कार्रवाई की जा सकती है। काग्रेंस के विधायक शक्तावत की पत्नी ने नोटिस नहीं लिया तो घर के बाहर चस्पा किया गया।
विधानसभा सचिवालय से प्राप्त नोटिस को प्रशासनिक अधिकारी तामील कराने के लिए पिछली मंगलवार की देर रात शक्तावत के उदयपुर स्थित मकान पर पहुंचे। इस पर शक्तावत की पत्नी ने सख्त नाराजगी व्यक्त की। उनके द्वारा नोटिस न लेने पर प्रशासनिक अधिकारियों ने उसे शक्तावत के घर के बाहर चस्पा कर दिया। गजेंद्र सिंह शक्तावत की पत्नी ने प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा देर रात नोटिस लेकर आने को अनुचित बताया लेकिन प्रशासनिक अधिकारियों ने सरकारी आदेश का हवाला देते हुए नोटिस घर के बाहर चस्पा कर दिया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।