कालका-पिंजौर शहर समय के साथ विकसित जरुर हुए परन्तु समस्याएं वहीं ; अजय सिंगला
July 15th, 2020 | Post by :- | 48 Views

कहा – शहर में पार्किंग ना होने के कारण व्यापार हुआ ख़तम, व्यापारी परेशान

कालका (रोहित शर्मा) । कालका-पिंजौर शहर समय के साथ-साथ विकसित जरुर हुए परन्तु यहां की समस्याओं में समय के साथ कटोती नहीं हो पाई कालका-पिंजौर में सबसे जटिल समस्या है पार्किंग की। जिसको लेकर व्यापारी वर्ग के साथ-साथ शहर में आने वाला हर नागरिक परेशान है। उक्त शब्द कांग्रेस प्रवक्ता एवं सरंक्षक व्यापार मंडल मेन बाज़ार कालका अजय सिंगला ने अपना एक ब्यान जारी कर कहे। उन्होंने कहा कि कालका-पिंजौर के दुकानदार पहले ही अपने व्यापार को लेकर परेशान थे, कि कोरोना महामारी के चलते व्यापार और ज्यादा प्रभावित हो गया बचा-कूचा व्यापार पार्किंग ना होने के कारण ख़तम हो गया।

    सिंगला ने कहा कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर कई बार अपने बयानों में सिद्ध शक्तिपीठ प्राचीन श्री काली माता मंदिर कालका के लिए पार्किंग बनाए जाने की बात कह चुके है। जोकि अतिआवश्यक मुद्दा है लेकिन अभी तक लटका हुआ है। उन्होंने कहा की नवरात्रों के दिनों में काली माता मंदिर में दूर-दराज से लाखों श्रद्धालु माता के चरणों में नतमस्तक होने के लिए पहुंचते है। पार्किंग ना होने के कारण उन्हें कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। उन्होंने कहा कि कालका-पिंजौर में दो-दो मल्टीलेवल पार्किंग की अतिआवश्यकता है, जोकि काली माता मंदिर, तहसील परिसर के साथ और एसीपी ऑफिस वाली जगह पर यदि सरकार चाहे तो बन सकती है। कहा कि विधानसभा में भी कालका विधायक प्रदीप चौधरी के माध्यम से इस मुद्दे को कई बार उठा चुके है, लेकिन समस्या ज्यों की त्यों ही है। सिंगला ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से मांग करते हुए कहा कि जनहित को देखते हुए शहर में दिन-प्रतिदिन बढ़ रही पार्किंग की समस्या को दूर करवाया जाए।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।