जिला मुख्यालय में चिकित्सक सहित 3 कोरोना संक्रमित चिकित्सा विभाग ने की पुष्टि
July 14th, 2020 | Post by :- | 363 Views

कोंडागांव/अमरेश कुमार झा

प्राप्त जानकारी अनुसार जिला अस्पताल में नाक,कान,गला के पद पर कार्यरत महिला चिकित्सक जिन का गृह निवास हैदराबाद में है।
उनके पति भी पेशे से शासकीय चिकित्सक हैं जो कोंडागांव के ITBP 41 वीं शाखा में  पदस्थ हैं।

विगत 4 (चार) जुलाई को इनके माता, पिता हैदराबाद से यहाँ पहुंचे थे,परन्तु एक जिम्मेदार नागरिक की तरह न तो इन्होंने अपने आने की सूचना जिला प्रशासन को दी और ना ही किसी तरह का कोई परिक्षण कराया और तो और चौदह दिनों तक अपने आप को कोरेटांईन करना भी जरूरी नहीं समझा।
जबकि हैदराबाद से आये इन दंपत्ति के पुत्र व पुत्रवधु जो शासकीय सेवा में स्वास्थ्य अधिकारी जैसे जिम्मेदार पद पर जिला अस्पताल व अर्धसैनिक बल में पदस्थ हैं ने भी अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन पूरी ईमानदारी से करना उचित नहीं समझा।


जहाँ एक ओर पूरी दुनिया, देश इस महामारी से एक जुट हो कर लड़ने में अपना सहयोग दे रहा है तो ऐसी स्थिति में चिकित्सकों द्वारा लापरवाही बरतना समझ से परे है।इनका यह कृत्य क्या आपराधिक श्रेणी में नहीं आता ?
यदी हाँ तो इन गैर जिम्मेदार व्यक्तियों के विरुद्ध प्रकरण दर्ज कर नियमानुसार कार्यवाही होना अति आवश्यक है ताकि अन्य लोग सीख ले कर ऐसी भूल करने का साहस न करें।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।