राजस्थान में गहलोत vs पायलट: आज फिर होगी कांग्रेस विधायक दल की बैठक
July 14th, 2020 | Post by :- | 20 Views

जयपुर,(सुरेन्द्र कुमार सोनी) । जयपुर में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के आवास पर विधायकों की मीटिंग हुई। दिल्ली से अजय माकन भी पहुंचे। गहलोत समेत कई विधायक विक्ट्री साइन बनाकर बता रहे हैं कि सियासी संकट में जीत उनकी हुई है। गहलोत के आवास पर विधायकों की बैठक हुई जिसमें 107 में से पायलट समर्थक 18 विधायक नहीं पहुंचे।
गहलोत खेमे ने दावा किया कि 102 विधायक पहुंचे, बहुमत साबित करने के लिए अभी 101 विधयकों की जरूरत है। राजस्थान में सत्ता की जोर आजमाइश थम नहीं रही है। सोमवार को विधायक दल की बैठक के बाद कांग्रेस का थिंकटैंक मंगलवार को भी विधायकों की बैठक बुला रहा है। खफा चल रहे डिप्टी सीएम सचिन पायलट से सोनिया गांधी की तरफ से भेजे गए ऑब्जर्वर रणदीप सुरजेवाला ने एक बार फिर बैठक में आने की अपील की है। उन्होंने दावा किया है कि कांग्रेस को 109 विधायकों का समर्थन है। करीबियों ने यह साफ कर दिया है कि पायलट खेमा समझौते के मूड में नहीं है। साथ ही उन्होंने तंज कसा कि अगर अशोक गहलोत सरकार के पास बहुमत है तो वो विधानसभा में इसे साबित करें,अपने विधायकों को होटल क्यों भेज रहे हैं।
*घर के लोग घर में ही शोभा देते हैं: सुरजेवाला
सुरजेवाला ने कहा- घर के सदस्य घर के अंदर ही शोभा देते हैं। कांग्रेस विधायक दल के एक-एक सदस्य का कर्तव्य है कि राजस्थान की 8 करोड़ जनता के सेवा के यज्ञ में सहयोग दें। सचिन पायलट समेत सभी साथी जो नाराज हैं, उनके लिए कांग्रेस के सारे दरवाजे खुले हैं। मतभेद है तो चर्चा करें। समस्या का हल निकालेंगे। कल सुबह दस बजे कांग्रेस विधायक दल की बैठक बुलाई गई है। सचिन पायलट और उनके समर्थक विधायकों को भी बैठक में आने का अनुरोध किया गया है।
पायलट समर्थकों का वीडियो आया सामने:
सोमवार देर शाम हरियाणा के मानेसर के होटल मेें ठहरे पायलट समर्थक विधायकों का वीडियो सामने आया। हालांकि, इस वी़डियो में पायलट नजर नहीं आए। उधर, कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा है कि पायलट पार्टी के काबिल नेताओं में से एक हैं। अगर उन्हें अपनी समस्याएं रखनी हैं तो वे आएं और उन्हें रखें। लेकिन, अगर कोई कांग्रेस को नुकसान पहुंचाने या सरकार को गिराने की कोशिश करेगा तो मैं उसे रोकूंगा। रणदीप सुरजेवाला ने कांग्रेस विधायक दल की बैठक में सभी से शामिल होने की अपील करते हुए कहा कि किसी तरह का कोई मनमुटाव है तो पार्टी अध्यक्ष और आलाकमान से बात कर सकते हैं।
सूत्रों के मुताबिक, सचिन पायलट आज नई पार्टी की घोषणा कर सकते हैं। कांग्रेस के एक तिहाई विधायकों के शामिल होने का दावा किया जा रहा है। इस तरह प्रदेश में तीसरे मोर्चे का गठन हो सकता है। ‘प्रगतिशील कांग्रेस’ के नाम से तीसरा मोर्चा खड़ा करने की संभावना है।
सोमवार को ही सीएम गहलोत के करीबी दो कांग्रेस नेताओं धर्मेंद्र राठौड़ और राजीव अरोड़ा के जयपुर, कोटा, दिल्ली और मुंबई स्थित ठिकानों पर आयकर विभाग ने छापा मारा।
राजस्थान में कांग्रेस के प्रभारी अविनाश पांडे ने कहा- पायलट से बात करने की कोशिश की, मैसेज भी किया, लेकिन उन्होंने जवाब नहीं दिया। वे पार्टी से ऊपर नहीं हैं।
छत्तीसगढ़ के कांग्रेस प्रभारी पीएल पुनिया ने न्यूज एजेंसी से कहा कि सचिन पायलट अब भाजपा में हैं। बाद में ट्वीट किया कि मुझसे सिंधिया को लेकर सवाल किया गया था। सिंधिया की जगह पायलट का नाम निकल गया। गलती से ऐसा हो गया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।