शिक्षा के एतबार से पिछड़े , लेकिन जज्बा सलाम करने लायक
July 13th, 2020 | Post by :- | 28 Views
नूंह मेवात , ( लियाकत अली )  । माता अनपढ़ गृहणी , पिता किसान सात भाई बहनों में सबसे बड़े , लिबास से किसी इस्लामिक मदरसे के छात्र की तरह दिखने वाले नूह जिले के लाहबास गांव के दसवीं के छात्र ने 500 में से 470 अंक करीब 95 फ़ीसदी अंक प्राप्त कर गांव में माता -पिता के साथ – साथ इलाके का नाम रोशन किया है । सलमान चौधरी नाम का यह छात्र जिले के टॉप फाइव की सूची में शामिल है
। सलमान चौधरी बड़ा होकर डॉक्टर बनना चाहता है , जिले में डॉक्टरों की भारी कमी है , इसलिए डॉक्टर बनकर वह इलाके के लोगों की सेवा करना चाहता है । माता – पिता भले ही अनपढ़ है । मध्यम वर्गीय परिवार से संबंध रखते हैं , लेकिन बेटे को पढ़ाने के लिए उनके हौसले बुलंद हैं । बेटे ने माता – पिता का नाम रोशन किया तो लोगों ने मालाओं से लादकर तथा मिठाई खिलाकर सलमान चौधरी का स्वागत किया। सलमान चौधरी निवासी किसी स्कूल के छात्र नहीं बल्कि इस्लामिक मदरसे के छात्र लगते हैं । सर पर टोपी , बदन पर कुर्ता – पायजामा पहने सलमान चौधरी न केवल स्कूल में शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं बल्कि उसके साथ – साथ दीनी तालीम भी हासिल कर रहे हैं । पांच वक्त की नमाज भी समय पर अता करते हैं । हद तो तब हो गई जब सात भाई बहनों में सबसे बड़े सलमान चौधरी हर फन में माहिर हैं । कुल मिलाकर मां – बाप को ही नहीं बल्कि पूरे लाहबास गांव व इलाके के लोगों को इस होनहार छात्र पर गर्व है। सलमान चौधरी ने पांचवी तक किसी निजी स्कूल से नहीं बल्कि गांव के ही सरकारी स्कूल से पढ़ाई की । उसके बाद तकरीबन दो – तीन किलोमीटर दूर पिनगवां कस्बे के निक्की मॉडल सीनियर सेकेंडरी स्कूल में छठी कक्षा में दाखिला लिया और वहीं से पढ़ाई हासिल कर उसने कामयाबी की मंजिल तक कदम बढ़ाए । खास बात यह है कि हरियाणा का मुस्लिम बाहुल्य जिला शिक्षा के एतबार से सबसे पिछड़ा हुआ है। यहां अध्यापकों के साथ संसाधनों की भारी कमी है । कोरोना काल ने भी इस बार पढ़ाई को काफी हद तक प्रभावित किया है , लेकिन उसके बावजूद भी पूत के पांव पालने में ही दिख जाते हैं। सलमान चौधरी ने 500 में से 470 अंक हासिल कर यह साबित करने की कोशिश की है कि अगर हौसला व लगन हो तो बड़ी से बड़ी कामयाबी हासिल की जा सकती है। हरियाणा के इस पिछड़े जिले के सलमान अली ने लिटिल चैंप्स से लेकर इंडियन आइडल तक अपने सुरों का जादू बिखेरा था । अब इसी जिले का एक सलमान चौधरी शिक्षा के क्षेत्र में चमक बिखेरने जा रहा है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।