दून पब्लिक स्कूल ने बढ़ती हुई जनसंख्या के प्रति समाज को किया जागरूक !
July 11th, 2020 | Post by :- | 106 Views

लाडवा (गोस्वामी )– पब्लिक स्कूल, लाडवा द्वारा 11 जुलाई को विश्व जनसंख्या दिवस मनाया, इस अवसर पर ऑनलाइन कार्यक्रम का आयोजन किया गया, यह जानकारी स्कूल प्रिंसिपल डॉ अनीता शर्मा के द्वारा देते हुए बताया गया कि नाटक के माध्यम से स्कूली छात्रों ने ऑनलाइन जन जागरण नाटक प्रस्तुत किए I नाटक के माध्यम से बच्चों ने लोगों को जनसंख्या नियंत्रण के लाभ और वृद्धि से होने वाली हानियों के बारे में बताया। एना गोयल एवं निकुंज गोयल ने समस्त भारतवासियों से “छोटा परिवार सुखी परिवार “ का नारा देकर जनसंख्या रोकथाम की अपील की I वहीं दूसरी ओर हरमन,जीविका, करण प्रीत, लक्षित, दक्ष तनिष्का ने पोस्टर मेकिंग के द्वारा समाज में बढ़ती हुई जनसंख्या के प्रति जागरूकता उत्पन्न की। सभ्यता, भविष, उदय, विश्व ,तनीषा, आरव,सिनिका ने चित्रकारी प्रतियोगिता में भाग लेकर चित्रों के माध्यम से बढ़ती हुई जनसंख्या के प्रति समाज जागरूकता का प्रसार किया। प्रत्यूषा शर्मा , ऋत्विक गोयल , हरकीरत सिंह ,वेदान्त ने स्लोगन के माध्यम से आम जनता को जागरूक किया । स्कूल की चेयर पर्सन सुधा गर्ग ने बच्चों के इस कार्यक्रम की विशेष सराहना करते हुए कहा कि दूषित सामाजिक व्यवस्था व आर्थिक विपन्नता का मुख्य कारण, भारत में बढ़ती हुई जनसंख्या ही है। पाटनर व अकेडमिक डायरेक्टर प्रोफेसर विवेक शर्मा ने कहा हमें जनता को बढ़ती हुई जनसंख्या के प्रति जागरुक करते हुए जनसंख्या पर नियंत्रण पाए जाने के प्रयासों को प्रभावी बनाना चाहिए ।उन्होंने बताया कि जनसंख्या बढ़ जाने से समाज में असंतुलन पैदा होगा तथा ऐसे में जरूरी है कि हम सभी लोग जागरुक होकर समय रहते जनसंख्या नियोजन में सहयोग दें। स्कूल डायरेक्टर प्रमोद शर्मा ने जनसंख्या वृद्धि को एक बड़ी समस्या बताते हुए कहा कि अगर इसी तरह आबादी बढ़ती रही तो सच में आने वाले कुछ सालों बाद ना पीने को पानी बचेगा तथा रोटी, कपड़ा व मकान की समस्या भी दुनिया में हर देश में विकराल रूप धारण कर लेगी I स्कूल वाइस प्रिंसिपल अनीता जिंदल ने भी अपने विचार व्यक्त करते हुए बताया पर्यावरण प्रदूषण का मुख्य कारण बढ़ती हुई जनसंख्या ही है मानव अपने संसाधनों
की पूर्ति के लिए प्राकृतिक को हानि पहुंचाता है । इससे पर्यावरण प्रदूषण बढ़ता है। इसके अलावा बेरोजगारी की समस्या भी जनसंख्या बढ़ने के चलते ज्यादा बढ़ती है उन्होंने कहा कि जनसंख्या को नियंत्रण करने के लिए हम से अहम से अहम कदम उठाए जाने चाहिएI इसलिए आज के दिन 11 जुलाई को विश्व बढ़ती जनसंख्या के लिए लोगों को जागरूक किया जाता है । वहीं स्कूल के शिक्षकों ने भी बढ़ती हुई जनसंख्या पर अपने विचार व्यक्त किए, कि बढ़ती जनसंख्या विश्व के लिए चिंता का विषय है। देश में बढ़ती हुई भूखमरी बेरोजगारी भी इसी वजह से है। । विश्व जनसंख्या दिवस के इस ऑनलाइन कार्यक्रम में स्कूल चेयरमैन के के गर्ग ,चेयर पर्सन सुधा गर्ग, पाटनर व अकेडमिक डायरेक्टर प्रोफेसर विवेक शर्मा, डायरेक्टर प्रमोद शर्मा, प्रिंसिपल अनीता शर्मा ,वाइस प्रिंसिपल अनीता जिंदल और मैनेजर ईशान सिंगला , शिक्षक गण, सभी विद्यार्थी व अभिभावकगण सम्मिलित रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।