हरियाणा बोर्ड ने दसवीं कक्षा मार्च, 2020 परीक्षा परिणाम घोषित किया
July 10th, 2020 | Post by :- | 704 Views

कुरुक्षेत्र, लोकहित एक्सप्रेस, (सैनी)। हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड की मार्च-2020 में संचालित सैकेण्डरी (नियमित/रि-अपीयर) परीक्षा का परिणाम 10 जुलाई 2020 को घोषित किया गया है। नियमित परीक्षार्थियों का परीक्षा परिणाम 64.59 फीसदी रहा है। इस परीक्षा में लड़कियों की पास प्रतिशतता 69.86 प्रतिशत तथा लडक़ों की 60.27 प्रतिशत रही। इस प्रकार लड़कियों ने लडक़ों से 09.59 फीसदी ज्यादा पास प्रतिशतता देकर बढ़त हासिल की है। इसके अतिरिक्त स्वयंपाठी परीक्षार्थियों का परिणाम 62.38 फीसदी रहा है।
इस परीक्षा परिणाम की घोषणा करते हुए बोर्ड अध्यक्ष डॉ. जगबीर सिंह एवं बोर्ड सचिव श्री राजीव प्रसाद, ह.प्र.से. ने संयुक्त रूप से आज यहाँ बताया की लॉकडाउन (कोविड-19 महामारी) से पूर्व सैकेण्डरी परीक्षा के केवल चार विषयों की परीक्षा ही संचालित करवाई जा सकी थी। केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा अपनाई गई अंकन नीति अनुसार ही शिक्षा बोर्ड, भिवानी द्वारा भी सम्पन्न करवाए गए विषयों की परीक्षा के औसत अंकों के आधार पर अंक माने गए है तथा तदानुसार ही परिणाम निकाला गया है। परीक्षार्थी अपना परीक्षा परिणाम बोर्ड की वैबसाईट www.bseh.org.in पर देख सकते हैं।
उन्होंने आगे बताया कि यदि कोई परीक्षार्थी घोषित हुए परिणाम से संतुष्ट नहीं है तो वह बोर्ड की आगामी होने वाली परीक्षा में आंशिक अंक सुधार कर सकता है, जिसके लिए परीक्षार्थी को दो अवसर दिए जाएगें।
बोर्ड अध्यक्ष ने बताया कि सैकेण्डरी(नियमित)परीक्षा में प्रथम स्थान पर कु० ऋषिता, टैगोार व०मा०वि०, नारनौंद (हिसार) व द्वितीय स्थान पर कु०ऊमा, कु० कल्पना, टैगोार व०मा०वि०, नारनौंद (हिसार), कु०नीकिता मारूती सांवत, जी०एन०जे०एन०गोयंका गल्र्ज हाई स्कूल, हिसार, कु० स्नेह, टैगोार व०मा०वि०, नारनौंद (हिसार), कु० अंकिता, डी०एन०हाई स्कूल, खाण्डा खेडी (हिसार) तथा तृतीय स्थान पर कु० चहक, नवयुग हाई स्कूल, नारनौंद(हिसार), रोहित, गीता विद्या मन्दिर हाई स्कूल, उचाना मण्डी (जीन्द), कु०किरण कुमावत, रा०व०मा०वि०, मसानी (रिवाडी), कु० हिमांशी, टैगोार व०मा०वि०, नारनौंद (हिसार), कु० अंशु, के०सी०एम० पब्लिक व०मा०वि०, निंदाना (रोहतक), कु० मनू, सरस्वती विहार व०मा०वि०, धमालका (रेवाडी), कु० भूमिका, राव दिनाराम विद्या विहार व०मा०वि०, हालूहेरा (रेवाडी), कु० सलोनी, टैगोार व०मा०वि०, मतौर (कैथल) व कु० गर्विता, टैगोार व०मा०वि०, नारनौंद (हिसार)
उन्होंने ने बताया कि सैकेण्डरी (नियमित) परीक्षा में 3,37,691 परीक्षार्थी प्रविष्ठ हुए थे, जिनमें से 2,18,120 उत्तीर्ण हुए एवं 32,501 परीक्षार्थियों की कम्पार्टमेंट आयी है तथा 87,070 परीक्षार्थी अनुत्तीर्ण रहे हैं। इस परीक्षा में 1,85,429 छात्र बैठे थे, जिनमें 1,11,751 पास हुए तथा 1,52,262 प्रविष्ठ छात्राओं में से 1,06,369 पास हुईं।

बोर्ड सचिव श्री राजीव प्रसाद, ह.प्र.से. ने आगे बताया कि इस परीक्षा में राजकीय विद्यालयों की पास प्रतिशतता 59.74 रही तथा प्राईवेट विद्यालयों की पास प्रतिशतता 69.51 रही है। इस परीक्षा में ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थियों की पास प्रतिशतता 64.39 रही है, जबकि शहरी क्षेत्र के विद्यार्थियों की पास प्रतिशतता 65.00 रही है।
उन्होंने आगे बताया कि यह परिणाम 10 जुलाई को संबंधित विद्यालयों/संस्थाओं द्वारा बोर्ड की वैबसाईट पर जाकर अपनी यूजर आईडी व पासवर्ड द्वारा लॉगिन करते हुए डाऊनलोड भी किया जा सकेगा। कोई विद्यालय अगर समय पर परिणाम प्राप्त नहीं करता है तो इसके लिए वह स्वयं जिम्मेवार होगा।
उन्होंने बताया कि इंटरनेट व हैल्पलाईन तथा मोबाईल एप इत्यादि की सुविधा परीक्षार्थियों को परीक्षाफल तुरंत उपलब्ध करवाने के लिए दी जा रही है, इसमें किसी भी प्रकार की तकनीकी खराबी/त्रुटि के लिए बोर्ड कार्यालय जिम्मेवार नहीं होगा। उन्होंने बताया कि स्वयंपाठी परीक्षार्थियों के साथ-साथ विद्यालयी परीक्षार्थियों का परिणाम अनुक्रमांक के आधार पर लिया जा सकता है।
उन्होंने आगे बताया कि इन परीक्षा परिणामों के आधार पर जो परीक्षार्थी अपनी उत्तरपुस्तिकाओं की पुन: जाँच अथवा पुनर्मूल्यांकन करवाना चाहते हैं तो वे ऑनलाईन आवेदन कर सकते हैं। पुन: जाँच/पुनर्मूल्यांकन निर्धारित शुल्क सहित परिणाम घोषित होने की तिथि से 20 दिन तक ऑनलाईन आवेदन कर सकते हैं।
डॉ. जगबीर सिंह एवं श्री राजीव प्रसाद ने सभी भावी परीक्षार्थियों, अभिभावकों एवं अध्यापकों को सैकेण्डरी परीक्षा मार्च-2020 में उत्कृष्ट प्रदर्शन के चलते ढेरों बधाईयाँ दी।

विषय अनुसार व जिला अनुसार परिणाम यहाँ पर देखे

परीक्षा परिणाम यहाँ पर देखे

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।