सोलन जिला में 58.81 करोड़ से 40 पेयजल योजनाओं के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों के 17,479 आवासों में जून 2021 तक नल स्थापित किए जाएंगे
July 10th, 2020 | Post by :- | 23 Views


उपायुक्त सोलन केसी चमन ने कहा कि जून, 2021 तक सोलन जिला के ग्रामीण क्षेत्रों में सभी आवासों को नल के माध्यम से शुद्ध जल उपलब्ध करवा दिया जाएगा। उपायुक्त आज यहां जल जीवन मिशन के तहत योजना स्वीकृति समिति की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। केसी चमन ने कहा कि जल जीवन मिशन का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों में प्रत्येक आवास को सुरक्षित एवं समुचित जल उपलब्ध करवाना है। उन्होंने कहा कि इस महत्वाकांक्षी कार्यक्रम के तहत जल स्त्रोत संवर्द्धन को भी अनिवार्य रूप से सम्मिलत किया गया है। जल स्त्रोत संवर्द्धन के लिए उचित जल प्रबन्धन, जल संरक्षण एवं वर्षा जल संग्रहण पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। उन्होंने सभी से आग्रह किया कि जल संरक्षण को जीवन में अपनाएं और जिला के प्रत्येक व्यक्ति को पानी की एक-एक बूंद को बचाने के लिए प्रेरित करें।
उपायुक्त ने कहा कि जल जीवन मिशन के तहत जिला सोलन में अभी तक विभिन्न कार्यों के लिए 02 शेल्फ स्वीकृत की गई हैं। इनके तहत कार्य प्रगति पर है। उन्होंने कहा कि तृतीय शेल्फ के तहत सोलन जिला में लगभग 59 करोड़ रुपये व्यय किए जाएंगे। तृतीय शेल्फ में जिला में 40 पेयजल योजनाओं के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों के शेष 17 हजार 479 आवासों में नल स्थापित करने एवं पेयजल योजनाओं में सुधार का कार्य किया जाएगा। उन्होंने जल शक्ति विभाग को निर्देश दिए कि मिशन के तहत सभी आवासों तक पेयजल पाइपें भूमिगत हों। उन्होंने कहा कि जिला के वाकनाघाट क्षेत्र में वृहद सूचना प्रौद्योगिकी पार्क प्रस्तावित है। यहां अनेक युवाओं को रोजगार एवं स्वरोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे। उन्होंने आईटी पार्क के लिए उचित जल व्यवस्था की सम्भावनाएं तलाशने के निर्देश दिए।
समिति के सदस्य सचिव एवं अधिशाषी अभियंता सोलन सुमित सूद ने मिशन की विस्तृत जानकारी प्रदान की। उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन की प्रथम शेल्फ के तहत जिला के ग्रामीण क्षेत्रों में 1927 शेष आवासों में नल स्थापित करने के लिए 17.80 करोड़ रुपये तथा द्वितीय शेल्फ में 10748 शेष आवासों में नल स्थापित करने के लिए 199.57 करोड़ रुपये की लागत से कार्य प्रगति पर है। चर्चा उपरांत 58.81 करोड़ रुपये की तृतीय शेल्फ को स्वीकृति के लिए प्रदेश सरकार को प्रेषित किया गया। बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी सोलन डाॅ. राजन उप्पल, जल शक्ति विभाग की अधिशाषी अभियंता अर्की कंचन शर्मा, अधिशाषी अभियंता नालागढ़ पुनीत शर्मा, उपनिदेशक उच्च शिक्षा योगेंद्र मखैक, उपनिदेशक प्रारंभिक शिक्षा रोशन जसवाल, जिला उप शिक्षा अधिकारी चंद्रमोहन शर्मा एवं वन विभाग के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।