विश्व जनसंख्या दिवस 11 जुलाई पर विशेष :- आचार्य राम कुमार बघेल
July 10th, 2020 | Post by :- | 197 Views

पलवल (मुकेश कुमार हसनपुर) 10  जुलाई :- पर्यावरण संरक्षण के साथ पर्यावरण सचेतक समिति पलवल पशु-पक्षी मित्रों के लिए कृत्रिम आवास बनाकर उनके संरक्षण का कार्य कर रहे हैं। पर्यावरण सचेतक समिति के संयोजक आचार्य राम कुमार बघेल ने बताया बढ़ती जनसंख्या समाज और देश के लिए घातक है। यह खतरनाक राक्षस के समान विकराल रुप धारण करती जा रही है। बढ़ती आबादी और घटते रोजगार मानव जाति के लिए चिंता का विषय है। जनसंख्या बढ़ने से प्रकृति का असंतुलन बढ़ रहा है।

जनसंख्या नियंत्रण और पर्यावरण संरक्षण के लिए लोगों को जागरूक होना जरूरी है। समिति पदाधिकारी मॉस्टर थानसिंह, देव कुमार, एडवोकेट संजय कुमार, ईश्वरराज, अमरपाल, गजेंद्र, महेश जोगी, डॉ0 संजीव आदि इसके लिए जागरूकता अभियान में अपना योगदान दे रहे हैं। मनुष्य अपनी इच्छापूर्ति के लिए वन, जल व् भूमि का अति उपभोग अपने स्वार्थ के लिए निरन्तर कर रहा है। इससे वातावरण तक दूषित होने के साथ- साथ जीवों के प्राणों का संकट बन गया है।

वृक्षों के आभाव में नन्हें पक्षी मित्रों के घोंसलों के लिए हमने खाली गत्ते के डब्बों, खाली कच्चे नारियल के खोल, मिट्टी के छोटे बर्तन व् लकड़ी आदि के घरोंदे बनाकर लगा रखे हैं। पर्यावरण संरक्षण के लिए हम सभी को वृक्षारोपण करना चाहिए। श्रावण माह भक्ति के साथ प्रकृति से स्नेह करने का मास भी है। भगवान शिव की भक्ति प्रकृति की रक्षा करने से उत्तम फल देने वाली है। सभी को प्रकृति से प्रेम करना चाहिए। पेड़- पौधों से ही हम सबका जीवन संभव है। इसलिए अपने जीवन में सभी को पेड़ अवश्य लगाने और उनकी पूर्ण देखभाल करनी चाहिए।

 

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।