आंगनवाड़ी वर्कर्स एंड हेल्पर्स यूनियन ने अपनी मांगों को लेकर प्रधानमंत्री के नाम तहसीलदार को सौंपा ज्ञापन|
July 10th, 2020 | Post by :- | 122 Views

पलवल (मुकेश कुमार हसनपुर) 10  जुलाई :- शुक्रवार को आंगनवाड़ी वर्कर्स एंड हेल्पर्स यूनियन के आवाहन पर जिले में मांग दिवस के रूप में मनाया गया आज वर्कर एंड हेल्पर पलवल में गुर्जर धर्मशाला कुसलीपुर में इकट्ठी हुई और वहां से अपनी मांगों पर चर्चा करके प्रदर्शन करते हुए उपायुक्त कार्यालय पर पहुंची वहां प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन तहसीलदार को सौंपा गया|

जिला प्रधान उर्मिला रावत, सचिव कृष्णा, कैशियर कमला व दरियाव सिंह ने अपने संबोधन में बताया कि वर्कर्स एंड हेल्पर्स करोना की महामारी में पहली पंक्ति में कार्य कर रही है कोरोना जैसी भयंकर बीमारी में भी अपने कार्य को सुचारू रूप से कर रही हैं आंगनवाड़ी कर्मियों के द्वारा छोटे बच्चों व गर्भवती महिलाओं को कुपोषण से बचाने के लिए पूरे देश में सेवाएं देती है लेकिन हमारी मांगों पर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है|

1 :—आंगनवाडी का राशन इस कोरोना महामारी में दुगना किया जाए,

2:—आंगनवाड़ी वर्कर्स व  हेल्पर को मजदूर की मान्यता दी जाए व हमें पक्का किया जाए और जब तक पक्का नहीं होता हमें 21 हज़ार रुपए न्यूनतम वेतन दिया जाए हमारी पेंशन हो पीएफ ईएसआई का लाभ मिले,

3 :—हमें घर घर जा कर राशन बांटना पड़ता है हमें सुरक्षा के पूरे  उपकरण दिए जाए इस महामारी में अलग से अतिरिक्त वेतन आंगनबाड़ी को दिया जाए,

4 :—पलवल जिले में राशन बनाने में गैस की राशि का 5 साल में बहुत थोड़ा भुगतान हुआ है हमारी बकाया राशि अभी तक नहीं मिली है वह दीया जाये,

5 :—आंगनवाड़ी केंद्रों का किराया 4 वर्ष का बकाया है शहर का 3000 गांव का 1500 दिया जाए तथा मानदेय केंद्र सरकार का 6 महीने का और राज्य सरकार का 3 महीने की राशि बकाया है। हमें हर महीने की 7 तारीख को मानदेय दिया जाए,

8 :—जो भी वर्कर और हेल्पर रिटायर होती है उसका मानदेय ईंधन की राशि व अन्य सभी बकाया रिटायरमेंट से पहले दिया जाए,

9:—कुछ वर्कर्स को 4 वर्षों से गैस की राशि नहीं मिली है उनकी राशि दी जाए और अब तक जो उनकी राशि न डाली है उसका कारण बताया जाए,

10 :—हेल्पर से वरक के प्रमोशन में हरियाणा सरकार के निर्देशों को पलवल जिले में नहीं माना जा रहा है जिले की हेल्पर्स की सूची सीनियरिटी की लिसट यूनियन को दी जाए और सीनियरिटी से ही प्रमोशन किए जाए,

11 :—आंगनवाड़ी केंद्रों में बच्चों का राशन 15 दिन की बजाय 1 महीने में बांटा जाए और राशन की सप्लाई सभी केंद्रों तक दी जाए अभी तक कई कई केंद्रों का राशन एक जगह डाला जाता है 2011 में कुछ वर्कर्स का 10 महीने का मानदेय  मिला है 2 महीने का बाकी है, उसे भी दिया जाए,

12 :—आंगनवाड़ी वर्कर्स को नहीं तो टैब दिए गए हैं और न ही नेट की राशि दी जाती है अत:  हम कोई भी रिपोर्ट ऑनलाइन नहीं दे पाएंगे।

 

खण्ड हसनपुर से कामरेड चन्दन सिंह, बलजीत शास्त्री, बिमलेश व बिमलेश फ़ौजदार अधिकारी को ज्ञापन सौपने जाते हुये |

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।