विभागीय उदासीनता से मानक के विपरीत हो रहा इंटरलॉकिंग
July 9th, 2020 | Post by :- | 71 Views

सिद्धार्थनगर,। केन्द्र व प्र्रदेश सरकार भले ही भ्रष्टाचार मुक्त प्रशासन की दावा करता हैं मगर कतिपय जिम्मेदारों की खाऊं कमाऊ नीति व अधिक से अधिक कमाई के चक्कर में केन्द्र व प्र्रदेश सरकार के दावों को पलीता लगाने से नही चूक रहे।

जिसका जीता जागता उदाहरण जनपद के मिठवल ब्लाक के ग्राम पंचायत पिपरा मिश्र का है जहां पर इंटरलाकिंग कार्य में प्रधान, सचिव व टीए की मिलीभगत से मानकों को दरकिनार कर बालू की जगह मिट्टी डालकर कर थर्ड क्वालिटी के सीमेंट ईंटों से कार्य कराया गया है।जबकि जिलाधिकारी ने भी जनपद के सभी कार्यदायी संस्थाओं जिम्मेदारों को सख्त निर्देश दिया है कि जो भी कार्य कराया जाय वह मानक के अनुरूप हो लेकिन ब्लाक के तमाम जिम्मेदारों के खाऊ कमाऊ नीति के कारण जिलाधिकारी के आदेशों को भी ठेंगा दिखा रहे है।

इस संबंध में खण्ड विकास अधिकारी रघुनाथ सिंह ने कहा कि प्रधान व सचिव को इण्टरलाकिंग कार्य को फिर से उखाड़ कर बालू व गिट्टी बिछाने के लिए निर्देश दे दिया गया है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।