पुलिस ने चलाया सर्च अभियान
July 8th, 2020 | Post by :- | 17 Views
नूंह मेवात , ( लियाकत अली )  ।  गौतस्करों , वाहन चोरों , टटलू काटने वाली गैंग , अवैध माईनिंग व अपराधियों पर लगाम लगाते हुये उप पुलिस अधीक्षक पुन्हाना विवेक चौधरी के नेतृत्व में गठित टीम के द्वारा गांव नई और गांव सुन्हेङा में विशेष जांच अभियान चलाकर भारी मात्रा में वाहन व 21 संदिग्ध लोगों को हिरासत में लिया गया है। पुलिस संदिग्ध बाइक व लोगों की गहनता से जांच कर रही है।
एसएचओ पुन्हाना अजयबीर ने पत्रकारों को बताया कि गत 7 जुलाई को उप पुलिस अधीक्षक पुन्हाना विवेक चौधरी के नेतृत्व में भारी पुलिस बल के साथ गौतस्करों , वाहन चोरों , टटलू काटने वाली गैंग , अवैध माईनिंग , उदघोषित अपराधियों व बेल जंपर पर लगाम लगाने के लिये गांव नई और गांव सुन्हेङा में दबिश देकर सुबह 4 बजे से 11 बजे तक सघन तलाशी अभियान चलाया गया । तलाशी अभियान शुरु करने से पहले पुलिस ने गांव को चारों तरफ से सील कर दिया था । ताकि किसी भी प्रकार के अपराधी गांव से भाग न सके । तलाशी अभियान के दौरान यह भी सुनिश्चित किया गया की गांव के किसी आम आदमी को किसी प्रकार की कोई परेशानी न हो व तलाशी अभियान के दौरान गांव के गणमान्य व्यक्ततियों को साथ लिया गया । तलाशी अभियान के दौरान गौतस्करों , वाहन चोरों , टटलू काटने वाली गैंग , अवैध माईनिंग , उदघोषित अपराधियों व बेल जंपर के घरों पर दबिश दी गई । तलाशी अभियान के दौरान पुलिस को दोनों गांवों से करीब 7 संदिग्ध मोटरसाईकल , 3 ओवर लोड व माईनिंग के ट्रैक्टर व 21 संदिग्ध लोग मिले । जिन्हें हिरासत में लिया गया । हिरासत मे लिये गये लोगों की अपराधिक रिकार्ड व बाइक के रिकार्ड की जांच की जा रही है
अभियान के दौरान गांव के लोगों के विरोध को मध्य नजर रखते हुये जिला नूह के कई  एसएचओ , चौकी इंचार्जो , सीआईए स्टाफ पुन्हाना व पुलिस लाईन नूह से काफी मात्रा में पुलिस बल जिसमें महिला पुलिस कर्मचारी भी तैनात थी को शामिल करके 7 घंटे तक तलाशी अभियान चलाया गया । डीएसपी पुन्हाना  विवेक चौधरी की अगवाई मे इससे पहले भी जमालगढ , रिठठ , शाहचोखा व झिमरावट गांवों में इस प्रकार के जांच अभियान चलाये जा चुके हैं , जिसमें नूह पुलिस को काफी सफलता हासिल हुई ।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।