विश्व जनसंख्या दिवस  व परिवार कल्याण साधनों की जागरूकता के लिए सिविल सर्जन, डा0 कुलदीप सिंह,  ने जागरूकता वाहन को झड़ी दिखाकर जिला के शहरी व ग्रामीण क्षेत्र में प्रचार प्रसार हेतू किया रवाना।
July 8th, 2020 | Post by :- | 24 Views

अम्बाला, ( sukhvinder singh ) विश्व जनसंख्या दिवस 11 जलाई 2020 व परिवार कल्याण साधनों की जागरूकता हेतू आज सिविल सर्जन, डा0 कुलदीप सिंह,  ने एक जागरूकता वाहन को झड़ी देकर जिला अम्बाला के शहरी व ग्रामीण क्षेत्र में प्रचार प्रसार हेतू रवाना किया। इस अभियान का मुख्य उद्दे्श्य  कोरोना माहमारी से सावधानी के साथ-साथ इस वर्ष की थीम ’’आपदा में भी परिवार नियोजन की तैयारी- सक्षम राष्ट्र ओर परिवार की पूरी जिम्मेदारी‘‘, के महत्व पर प्रकाश डालना है जिसकी सफलता के लिए सिविल सर्जन डा0 कुलदीप सिंह, ने बताया कि  भारत में वर्ष 1981 की जनगणना के अनुसार 68 करोड़, 1991 में 84 करोड़, 2001 में 102 करोड, 2011 में 121 करोड व 2020 में अनुमानी 136 करोड़ हो चुकी है। केवल 40 वर्षो में लगभग दौगुनी जंनसख्या हो चुकी है, जोकि एक चिंता का विषय है। इसलिए शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों विशेषकर झोपड़-पटियो/ढाणियो मे बढ़ती जनसंख्या के दुष्परिणामों व जनसंख्या नियन्त्रण के स्थाई/अस्थाई साधनों जैसे-बिना चीरा-बिना टांका पुरूष नसबन्दी, नलबन्दी, अंतरा टीका, पी0पी0आई0यु0सी0डी, पी0ए0आई0यु0सी0डी0, कापर-टी, गर्भ निरोधक गोलियां व निरोध आदि साधनों की विस्तृत जानकारी दो पखवाडों के माध्यम से दी जा रही है। 
पहले पखवाडे मे दम्पति संपर्क पखवाडा 27 जून से 10 जुलाई 2020 तक स्वास्थ्य व आशा कार्यकर्ताओं द्वारा योग्य दम्पतियो का सर्वे कर आवश्यकतानुसार परिवार कल्याण के साधनों की जानकारी व अपनाने हेतू प्रेरित कर पंजीकरण किया जा रहा है। शादी के समय लडकी की उम्र 18 वर्ष व लडके की उम्र 21 वर्ष , पहला बच्चा शादी के दो साल बाद पैदा करने व पहले और दूसरे बच्चे के बीच कम से कम 3 साल का अन्तर रखने बारे जानकारी दी जा रही है। दूसरा पखवाडा जनसंख्या स्थिरता पखवाडा  11 जुलाई से 24 जुलाई 2020 तक मनाया जाएगा। जिसमें सभी स्वास्थ्य संस्थाओ/हस्पतालों/केन्द्रो में परिवार कल्याण साधनों की सुविधाएं मुफत प्रदान की जांएगी।  
तेजी से बढ़ रही जनता की सभी मूलभूत आवश्यकताएं जैसे- रोटी, पानी ,कपड़ा, मकान, स्वास्थ्य, शिक्षा, रोजगार, परिवहन इत्यादि की पूर्ति के लिए हर साल चिंतन और मंथन करके जनवृद्वि को रोकने हेतू अनेक योजनाए एवं कार्यक्रम बनाए जाते हैं लेकिन अभी तक जनसंख्या वृद्वि के सैलाब को नही रोक पाए हैं समय की मांग को ध्यान में रखते हुए प्रत्येक नागरिक से अपने परिवार को सीमित रखने की अपील की जाती है ।
उप सिविल सर्जन (प0क0) डॉ0 बलविन्द्र कौर, ने जानकारी देते हुए बताया कि जनसंख्या स्थिरता पखवाडा दिनांक 11 जुलाई से 24 जुलाई 2020 तक नागरिक हस्पताल अम्बाला शहर में, प्रत्येक सोमवार व शुक्रवार, नागरिक हस्पताल  अम्बाला छावनी, में प्रत्येक शनिवार, नागरिक हस्पताल नारायणगढ में, प्रत्येक मंगलवार, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मुलाना में प्रत्येक वीरवार को विशेष नसबन्दी व नलबन्दी शिविरों का आयोजन विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम द्वारा किया जाएगा। प्रत्येक एन0एस0वी0 करवाने वाले व्यक्ति को 2000/- दो हजार रूपये, प्रेरक को 300/- रूपये, महिला नलबन्दी करवाने पर 1400/- रू0 व प्रेरक को 200/- रू0 व प्रसव उपरान्त नलबन्दी करवाने पर 2200/- रू0  प्रोत्साहन राशि व प्रेरक को 300/- रुपए राशि दी जा रही है। अत: सभी योग्य दम्पत्यिों से अनुरोध है कि  इन  सेवाओं का पूरा लाभ उठाएं व अपना परिवार सीमित व खुशहाल बनाए । 

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।