हरियाणा सरकार का बड़ा फैसला, मत्स्य पालकों का किया जाएगा निःशुल्क 5 लाख का बीमा
July 8th, 2020 | Post by :- | 26 Views

चंडीगढ़,  -हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण, पशुपालन एवं डेयरिंग तथा मत्स्य विभाग के मंत्री श्री जयप्रकाश दलाल ने कहा कि ‘प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना’ के तहत राज्य के मछुआरे व मत्स्य पालकों का 5 लाख रूपए का नि:शुल्क बीमा किया जाएगा, इसमें उनसे किसी भी प्रकार का प्रीमियम नहीं लिया जाएगा। यह योजना मछुआरे व मत्स्य पालकों के परिवारों के लिए एक ‘छाता’ का काम करेगी तथा आत्मनिर्भर-भारत बनाने में आगे मदद करेगी।

श्री दलाल ने आज यहां जानकारी देते हुए बताया कि मछली पालन को और अधिक बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार द्वारा ‘प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना’ को मंजूरी दी गई है। इस योजना को मंजूरी देने के पीछे मछली पालन की दिशा में नौ प्रतिशत की सालाना वृद्धि दर के साथ वित्तीय वर्ष 2024-25 तक मछली पालन से 22 मिलियन मीट्रिक टन उत्पादन प्राप्त करना है, साथ ही मछली पालन की दिशा में बाजार में प्रतिस्पर्धियों की संख्या में बढ़ोत्तरी, मछली पालन के गुणवत्तायुक्त बीज, बेहतर जलीय प्रबंधन को बढ़ावा देना आदि शामिल है।

उन्होंने बताया कि इस मत्स्य योजना का उद्देश्य नीली क्रांति के माध्यम से देश में मत्स्य पालन क्षेत्र के सतत और जवाबदेह विकास को सुनिश्चित करना है। उन्होंने बताया कि यह योजना कुल अनुमानित लागत 20,050 करोड़ रूपए की होगी। इस योजना में केन्द्र की हिस्सेदारी 9407 करोड़ रूपए, राज्यों की हिस्सेदारी 4880 करोड़ रुपए तथा लाभार्थियों की हिस्सेदारी 5763 करोड़ रुपए होगी।

मत्स्य विभाग के निदेशक श्री पी.एस मलिक ने जानकारी दी कि हरियाणा में अब तक 1400 मछुआरे व मत्स्य पालकों का बीमा किया जा रहा है और करीब 17,000 का लक्ष्य है। उन्होंने बताया कि अगर किसी बीमित मछुआरे व मत्स्य पालक की कार्य करते हुए मृत्यु हो जाती है तो उसके परिवार को 5 लाख रूपए का क्लेम मिलेगा, अपाहिज होने की स्थिति में 2.5 लाख रूपए तक दिए जाएंगे। उन्होंने बताया कि क्लेम राशि में से 60 प्रतिशत केद्र सरकार से तथा 40 प्रतिशत राज्य सरकार से दिया जाएगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।