विद्यार्थियों को ऑनलाइन क्लास में क्लासरूम की तरह समझाना थोड़ा मुश्किल, पर पढ़ाई भी जरूरी है
July 8th, 2020 | Post by :- | 37 Views

ऑनलाइन क्लासेज के माध्यम से बच्चों ही नहीं उनके माता-पिता भी ऑनलाइन कक्षाओं से जुड़ रहे हैं। ऑनलाइन पढ़ाई को लेकर बच्चों का उत्साह भी बढ़ने लगा है। उन्हें टीचर्स द्वारा प्रोजेक्ट भी दिए जा रहे हैं, साथ ही रचनात्मक कार्यों से भी जोड़ा जा रहा है लेकिन हर चीज के 2 पहलू होते हैं।

ऑनलाइन क्लासेज जहां बच्चों के लिए फायदेमंद साबित हो रही हैं, वहीं इसके कुछ नुकसान भी सामने आ रहे हैं। फायदा यह है कि संकट के वक्त भी शिक्षा जारी है। पैरेंट्स को भी पता चल रहा है कि उनके बच्चों को पढ़ाई में कहां दिक्कत आ रही है। नुकसान यह है कि जो चीजें समझ में नहीं आती हैं, उसे क्लासरूम की तरह विद्यार्थियों को समझा पाना टीचरों के लिए थोड़ा मुश्किल हो रहा है।

वीडियो से विद्यार्थियों को गहराई तक नहीं समझा सकते ऑनलाइन क्लास में वीडियो के माध्यम से विद्यार्थियों को गहराई तक नहीं समझा सकते। वीडियो में सिर्फ आप बता सकते हैं लेकिन यह नहीं समझा जा सकता कि बच्चे को कितना समझ में आया। अभिभावकों व विद्यार्थियों को नेटवर्किंग और डाउनलोडिंग जैसी समस्या भी आती है।

कई बार नेटवर्क कमजोर होने की वजह से वीडियो डाउनलोड नहीं हो पाते। पोर्टल पर वीडियो लिंक डालने के साथ टीचर गूगल मीट के माध्यम से लेक्चर भी देते हैं। विद्यार्थियों से फीडबैक के रूप में उनसे होमवर्क मंगवाया जाता है लेकिन इस संकट के समय ऑनलाइन के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं है।
सुनीता ठाकुर, प्रिंसिपल, आदर्श पब्लिक स्कूल-सेक्टर 20

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।