बांग्लादेश में अभी भी 32 तब्लीगी जमात के लोग फंसे हुए हैं , वापस लाने की लगाई गुहार
July 7th, 2020 | Post by :- | 25 Views

नूंह मेवात , ( लियाकत अली )  ।कोरोना महामारी की वजह से अंतरराष्ट्रीय उड़ाने रद्द होने के चलते तबलीगी जमात में गए 32 मेवाती अभी भी बांग्लादेश में फंसे हुए हैं । उनको वापस लाने की मांग को लेकर बड़ा मदरसा नूह के संचालक मुफ्ती जाहिद हुसैन ने जिला प्रशासन के आला अधिकारियों से मंगलवार को मुलाकात की । मुफ्ती जाहिद हुसैन ने कहा कि लॉकडाउन लगने की वजह से जो तबलीगी जमात के लोग विदेश में गए हुए थे , वह वापस अपने घर नहीं लौट सके। इस दौरान विदेशों से भारत आने वाली या भारत से विदेश जाने वाली एयरलाइंस भी पूरी तरह से बंद कर दी गई थी। जिसकी वजह से नूह जिले के करीब 32 तबलीगी जमात के सदस्य बांग्लादेश में फस गए थे। मुफ्ती जाहिद हुसैन ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि डीसी पंकज , एडीसी विक्रम एवं अन्य अधिकारियों ने भरोसा दिलाया है कि वह उनके द्वारा सौंपी गई तबलीगी जमात के लोगों की सूची को चंडीगढ़ हरियाणा सरकार के पास भेज देंगे। जिसके बाद यह सूची हरियाणा सरकार की तरफ से विदेश मंत्रालय भारत सरकार के पास जाएगी । तब कहीं जाकर बांग्लादेश में फंसे तबलीगी जमात के सदस्य अपने घर लौट सकेंगे। लेकिन मुफ्ती जाहिद हुसैन को उम्मीद ही नहीं बल्कि पूरा भरोसा है कि जिला प्रशासन के अधिकारियों ने इस मामले में पहले भी सकारात्मक पहल की है । जिसकी वजह से जल्दी ही बांग्लादेश में फंसे तबलीगी जमात के सदस्य अपने वतन लौट सकेंगे। खास बात यह है कि विदेशों से आई तबलीगी जमात जब लॉकडाउन लगने की वजह से नूह जिले में फस गई थी , तो उनको अपने वतन भेजने तथा भारतवर्ष के अन्य राज्यों की तबलीगी जमात के सदस्यों को उनके घरों तक सही सलामत पहुंचाने में भी मुफ्ती जाहिद हुसैन की सराहनीय भूमिका रही थी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।