हरियाणा सरकार ने महा शिवरात्रि की पूर्व संध्या पर हरिद्वार से पवित्र गंगा नदी के जल को प्रदेश में लाने की व्यवस्था करने का निर्णय लिया
July 7th, 2020 | Post by :- | 70 Views

चंडीगढ, ( महिन्द्र पाल सिंहमार )    ।    प्रदेश के लोगों की धार्मिक भावनाओं को ध्यान में रखते हुए, हरियाणा सरकार ने इस वर्ष श्रावण मास के दौरान महा शिवरात्रि की पूर्व संध्या पर हरिद्वार से पवित्र गंगा नदी के जल को प्रदेश में लाने की व्यवस्था करने का निर्णय लिया है क्योंकि उत्तराखंड एवं उत्तर प्रदेश की सरकारों ने कोविड-19 के मद्देनजर श्रावण मास के दौरान ‘कांवडिय़ोंं’ को ‘कांवड़ यात्रा’ पर आने की अनुमति नहीं दी है।

एक सरकारी प्रवक्ता ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि इस वर्ष श्रावण मास के दौरान महा शिवरात्रि की पूर्व संध्या पर पंचकूला, फरीदाबाद और गुरुग्राम के मंडलायुक्तों, पुलिस महानिरीक्षकों, पुलिस रेंजरों, उपायुक्तों, जिला मजिस्ट्रेटों, और पुलिस आयुक्तों को ‘कांवडिय़ोंं’ को ‘कांवड़ यात्रा’ पर जाने की अनुमति नहीं देने के निर्देश दिये गये है।

उन्होंने बताया कि राज्य सरकार ने सभी उपायुक्तों, पुलिस अधीक्षकों को निर्देश दिया है कि वे कोविड-19 के मद्देनजर अपने-अपने जिलों की कांवड समितियों, भक्त-मंडलियों, धार्मिक नेताओं आदि से तालमेल स्थापित कर तुरंत यह सुनिश्चित करें कि वे ‘कांवड़ यात्रा’ पर न जायें।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।