विधायक जगदीश नायर ने अधिकारियों के साथ बैठक कर विकास कार्यों का जल्द निपटारा करने के दिए निर्देश|
July 7th, 2020 | Post by :- | 33 Views

पलवल (मुकेश कुमार हसनपुर) 07 जुलाई :- क्षेत्रीय विधायक जगदीश नायर ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के निर्देश पर कस्बा हसनपुर के विश्राम गृह में अधिकारियों की बैठक लेकर क्षेत्र में रूके पडे विकास कार्यों व जनता की समस्याओं को जल्द निपटाने के निर्देश दिए है। विधायक ने यहां अधिकारियों से क्षेत्र के विकास में कतई भी कोताही ना बरतने के निर्देश दिए। बैठक में होडल व हसनपुर खंड के पानी, सिंचाई, बिजली, पंचायत, पुलिस, पीडब्ल्यूडी व अन्य प्रशासनिक अधिकारी मौजूद थे।

अधिकारियों की बैठक में विधायक जगदीश नायर ने कहा कि क्षेत्र के विकास कार्यों में बिल्कुल भी कोताही सहन नहीं की जाएगी। प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने सभी विधानसभाओं के विधायकों की बैठक लेकर उन्हें निर्देंश दिए हैं किवह अपनी विधानसभाओं में जनता की समस्याओं को सुने और उनका मौके पर ही निदान करें।

हसनपुर विश्राम गृह में आयोजित बैठक में विधायक जगदीश नायर के कस्बे के लोगों की बिजली, पानी व सीवरेज की समस्या को सुनने के बाद सभी विभागों के अधिकारियों को मौके पर ही बुला लिया और उन्हें उन समस्याओं को जल्द समाधान कर उन्हें निपटाने के निर्देश दिए। नायर ने यहां अधिकारियों से कहा कि लंबित पडे विकास कार्यों को बिना किसी देरी शीघ्र पूर्ण करें। विधायक ने कहा कि अगर कोई अधिकारी अपने कार्य के प्रति कोताही बरतता पाया गया तो वह उसकी शिकायत मुख्यमंत्री से कर उनके खिलाफ कार्यवाही करेंगे।

बैठक में खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी पूजा शर्मा, डीएसपी दलवीर सिंह, जनस्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी विभाग के कार्यकारी अभियंता रमेशचंद, मार्केट कमेटी के सचिव संदीप कुमार, बिजली निगम के कार्यकारी अभियंता एसएस दलाल, एसएचओ हसनपुर जितेंद्र कुमार, जिला बागवानी अधिकारी अब्दुल रज्जाक, हसनपुर के नायब तहसीलदार मोहम्मद इब्राहिम, होडल के नायब तहसीलदार मानसिंह, एसडीओ पीडब्ल्यूडी अशोक कुमार, हसनपुर के सरपंच संदीप मंगला, मंडी एसोसिएशन के अध्यक्ष संजय सरपंच के अलावा अन्य प्रशासनिक अधिकारी व गांवों के पंच-सरपंच मौजूद थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।