रंजिश के चलते युवक ने अपने चचेरे भाई की हत्या की 12 दिन बाद हुआ खुलासा
July 7th, 2020 | Post by :- | 114 Views

हिसार, ( लवकेश कथुरिया )     :- हांसी की शिव कॉलोनी में एक युवक ने अपने ही चचेरे भाई की हत्या कर शव  को जला दिया. मामले का खुलासा 12 दिनों बाद हुआ जब पुलिस ने शक  के आधार पर युवक को हिरासत लिया. दरअसल, 24 जून को शिव कॉलोनी निवासी स्वरूप ने अपने बेटे अनिल की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी. कई दिनों बाद बेटा नहीं मिला तो भाई के बेटे की गतिविधियों पर शक हो गया. आखिर स्वरूप पुलिस के पास पहुंचा व भतीजे पर शक जाहिर कर दिया. भरत को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो उसकी बातें सुनकर पुलिस भी सन्न रह गई. भरत ने बताया कि उसने चचेरे भाई अनिल की अपने जीजा व एक अन्य दोस्त के साथ मिलकर हत्या कर शव को जला दिया है.

सिटी थाना प्रभारी जसबीर सिंह भरत की निशानदेही पर उसके मकान के पीछे खाली पड़ जमीन पर पहुंचे, जहां अनिल का आधा जला हुआ शव पड़ा हुआ था व कुत्तों ने भी शव को बुरी तरह से नोंचा हुआ था. कुछ अधजले शरीर के अवशेष एकत्रित कर सिविल अस्पताल लाया गया. पुलिस की पूछताछ में भरत ने बताया कि पैसों को लेकर दोनों के बीच कई सालों से रंजिश चल रही थी. इसके अलावा उसके जीजा राजेश के साथ भी अनिल का किसी बात को लेकर विवाद चल रहा था. बीते 24 जून की रात को पहले तो चारों ने मिलकर शराब पी और इसके बाद तीनों ने मिलकर लोहे की रॉड से अनिल के सिर में वार कर उसकी हत्या कर दी. हत्या करने के बाद उन्होंने नहर के पास खाली मैदान में उसे जला दिया. वारदात को अंजाम देने के बाद भरत का जीजा व दोस्त चले गए.

इसके बाद भरत ने अनिल के शव को जलाने का प्लान बनाया और घर के पीछे ही खाली मैदान शव को जला दिया, लेकिन शव पूरी तरह से नहीं जला. कई बार शव को आरोपित द्वारा जलाया गया. आखिर के कुछ हिस्से नहीं जल पाए जिन्हें कुत्तों ने नोंच डाला. पुलिस को दूर-दूर तक मृतक के शरीर की हड्डियां बिखरी हुई मिली हैं, जिन्हें लैब में जांच के लिए भेजा जाएगा.

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।