कोरोना से जिले में पहली मौत
July 6th, 2020 | Post by :- | 23 Views
नूंह मेवात , ( लियाकत अली )  । सोमवार को नूह जिले के तावडू शहर में कोरोना महामारी से पहली मौत होने का मामला सामने आया है । कोरोना ने किशन लाल निवासी तावडू उम्र 62 वर्ष की जान ली है। कोरोना से मरने वाले व्यक्ति का नाम किशनलाल बताया जा रहा है । स्वास्थ्य विभाग एवं जिला प्रशासन ने कोरोना से हुई डेथ के नियमों को देखते हुए उनका अंतिम संस्कार नूह में कर दिया है ।
जानकारी के मुताबिक तावडू शहर के रहने वाले किशन लाल को निमोनिया इत्यादि बीमारी की वजह से राजकीय शहीद हसन खान मेवाती मेडिकल कॉलेज नल्हड़ में भर्ती किया गया था । कुछ घंटे बाद रविवार शाम करीब 6 बजे किशनलाल ने अंतिम सांस ली और दुनिया को हमेशा के लिए अलविदा कह दिया। इसके साथ ही नूह जिले में कोरोना महामारी से मौत के आंकड़े की सूची में उनका नाम पहले नंबर पर दर्ज हो गया। आपको बता दें कि नूह जिले में अप्रैल माह के शुरुआत में कोरोना का केस सामने आया था। शुरुआत में हरियाणा में सबसे ज्यादा किस नूह जिले में थे , जो सब को डरा रहे थे । लेकिन स्वस्थ होकर घर लौटने के कारण ईद उल फितर के अवसर पर यह जिला एक बार कोरोना फ्री हो गया था , लेकिन कोरोना ने नूह जिले में फिर से दस्तक दी और लगातार केसों की संख्या बढ़ रही है । अभी तक कोरोना से किसी की जान नहीं गई थी , लेकिन रविवार देर रात मौत का आंकड़ा अब शुरू हो चुका है । कुल मिलाकर कोरोना बीमारी से सावधान रहने की जरूरत है , अगर जान है , तो जहान है । इसलिए सोशल डिस्टेंसिंग , मास्क इत्यादि का विशेष ख्याल रखें , घर से बाहर जरूरत पड़ने पर ही निकलें , तभी जाकर कोरोना महामारी को हराया जा सकता है । अगर लापरवाही बरती तो किशन लाल की तरह कोरोना कुछ और लोगों की जान ले सकता है। डिप्टी सिविल सर्जन एवं जिला नॉडल अधिकारी अरविंद ने बताया कि मृतक किशन लाल के परिवार के दो लोगों को पहले भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया था । उसी की वजह से शायद उनको संक्रमण हुआ और उनकी जान चली गई।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।