अलवर जिले में कानून व्यवस्था बनाए रखने और अपराध पर लगाम लगाना अब महिला अधिकारियों के हाथों में
July 6th, 2020 | Post by :- | 30 Views

जयपुर,(सुरेन्द्र कुमार सोनी) । राजस्थान में अलवर जिले की कमान अब दो महिला अधिकारियो को सौंपी गई है। सरकार की और से आईएएस और आईपीएस अफसरों का तबादले में कलक्टर के पद पर आनंदी व जिला पुलिस अधीक्षक के पद पर तेजस्वीनी गौतम को सौंपा गया है। पूर्वी सिंहद्वार अलवर जिले की कमान अब महिला अधिकारियों के हाथों में हैं। इसमें अलवर जिले की कमान महिला अधिकारियों को सौंपी गई है। आनंदी अलवर से पहले उदयपुर में स्थानांतरित थी। वे साल 2007 बैच की आइएएस हैं। उन्होंने वर्ष 2008 में मसूरी से अंडर ट्रेनी करियर की शुरुआत की। राजस्थान में उन्हें पांचवी बार जिला कलक्टर का जिम्मा सौंपा गया है। इससे पहले वे उदयपुर, बूंदी, सवाई माधोपुर और राजसमंद जिला कलक्टर रह चुकी हैं। आनंदी मूल रूप से तमिलनाडु के तीरपुर जिले से हैं। उन्होंने सोशियोलॉजी से ग्रेजुएशन और दिल्ली यूनिवर्सिटी से वर्ष 2002 में एलएलबी की है।
अलवर पुलिस अधीक्षक के पद पर तेजस्विनी गौतम को नियुक्त किया गया है। तेजस्विनी इससे पहले चुरू पुलिस अधीक्षक के पद पर थी। तेजस्विनी गौतम साल 2013 बैच की आइपीएस अफसर है। लॉक डाउन के दौरान तेजस्विनी गौतम ने पहल कर चुरू जिले के लोगों को घर में रहने के लिए नवाचार किए। फेसबुक लाइव व अन्य प्रतियोगिताएं भी आयोजित की गई, जिससे लोग घरों में ही रहें। अलवर जिला अपराध की दृष्टि से क्रिटिकल माना जाता है, ऐसे में अब तेजस्विनी गौतम के समक्ष जिले में कानून व्यवस्था बनाए रखने और अपराध पर लगाम लगाने की चुनौती होगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।