तेजपाल को बनाया एचपीयू आफ जर्नलिस्ट यूनियन जिला ऊना का मुख्य संयोजक
September 8th, 2019 | Post by :- | 89 Views
  • गैर मान्यता प्राप्त पत्रकारों को मुफ्त परिवहन यात्रा की सुविधा दे सरकार : रणेश

ऊना, (  राज कश्यप )   :   हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले में भी हिमाचल प्रदेश यूनियन आफ जर्नलिस्टस ने अब ऊना के वरिष्ठ पत्रकार रविंदर तेजपाल को मुख्य संयोजक बनाया गया है।जीवन शर्मा को संयोजक, सह संयोजक सुरेश वासन,सदस्यता प्रभारी भारत भूषण को नियुक्त किया गया।
हिमाचल प्रदेश यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट के प्रदेशाध्यक्ष रणेश राणा ने आज ऊना के पी डब्ल्यू डी विश्राम गृह में इसकी घोषणा की है। रविन्द्र तेजपाल को प्रांत अध्यक्ष रणेश राणा , राष्ट्रीय सदस्य जतिन्द्र ठाकुर, जोगिंदर देव आर्य की सहमति से जिला ऊना की कमान सौंपी गई है। वह पूरे जिला में कार्यरत पत्रकारों विशेषकर ग्रामीण पत्रकारों व दूरदराज क्षेत्रों में कार्यरत खबरनवीसों को संगठन के साथ जोडेंगे और उनकी समस्याएं राज्य कार्यालय तक पहुचांऐगे। उनसे आग्रह किया है कि वह एक महीने के अंदर हिमाचल प्रदेश यूनियन आफ जर्नलिस्टस जिला ऊना में सदस्यता अभियान पूरा करें ।
इससे पहले पत्रकारों को पेश आ रही समस्याओं को लेकर संगठन में चर्चा की गई। इसमें विशेष रूप से ग्रामीण क्षेत्रों के पत्रकारों और गैर मान्यता प्राप्त पत्रकारों को हिमाचल परिवहन में मुफ्त यात्रा की सुविधा का मुद्धा सरकार के समक्ष रखने बारे सहमति बनी। पत्रकारों को हरियाणा और मध्यप्रदेश की तर्ज पर पैंशन की मांग सरकार के पास दोबारा रखने बारे भी सहमति बनी। राणेश ने कहा की पत्रकारों की हर समस्या को सरकार के समक्ष रखा जाएगा और उसका समाधान निकाला जाएगा।
रविन्द्र तेजपाल ने कहा कि उनको संगठन ने जो जिम्मेदारी सौंपी है उसको वह ईमानदारी से निर्वहन करेंगे। वह पत्रकार व पत्रकारिता के हितों के लिए दिन रात मेहनत करेंगे। उन्होने कहा कि हरियाणा की तर्ज पर पेंशन व पत्रकारों के कई मुददों को संगठन के मुख्य मुददों में शुमार है जिससे प्रभावित हुए हैं। तेजपाल ने कहा कि पेंशन के अलावा बहुत से मुददे है जिसको एचपीयूजे बेहतर तरीके से उठा रहा है और हम कंधे से कंधा मिलाकर संगठन के साथ चलेंगे और जिले में संगठन को शीर्ष पर पहुंचाएंगे।

* “लोकहित एक्सप्रैस” में पत्रकार बनने के लिए सम्पर्क करें।

 

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।