2022 विधानसभा चुनाव मलकीत सिंह ए आर के लिए बड़ी चुनौती ।
July 5th, 2020 | Post by :- | 293 Views

2022 के विधानसभा चुनाव पूर्व विधायक ए आर के लिए जंडियाला गुरु की सीट बन सकती है बड़ी चुनौती ,
विकास को बनाएंगे मुख्य मुद्दा : संदीप सिंह ए आर ।
जंडियाला गुरु कुलजीत सिंह

2022 के विधानसभा चुनाव में हलका जंडियाला गुरु में अकाली दल की राह आसान नहीं है भले ही उन्होंने एक बार यहां से चुनाव जीत चुके मलकीत सिंह ए आर के ऊपर दाव खेलने की सोच रखी है लेकिन मलकीत सिंह ऐ आर बी इस बार अकाली दल को आसानी से चुनाव में जीत नहीं दिला सकते क्योंकि पिछले 3 साल उनको जंडियाला गुरु हल्के से दूर रखा गया है और उन्होंने हल्का बाबा बकाला में अपना समय लोगों को दिया अकाली दल की यह गलती मलकीत सिंह ए आर को भारी पड़ सकती है यहां पर अकाली दल ने अलग-अलग उम्मीदवारों को को अजमा कर देख लिया है डॉक्टर दलबीर सिंह जिन्होंने पिछले चुनाव में यहां पर अकाली दल की तरफ से चुनाव लड़ा था पहले तो उन्होंने ही 2 साल यहां पर अकाली दल की कमान संभाल कर रखी थी उसके बाद यहां पर पिछली बार चुनाव जीत चुके बलजीत सिंह जलाल उस्मा उन्होंने भी अपने पांव पसारने का काा मम आरंभ कर दिया था जो अब हल्का बाबा बकाला में कमान संभाल रहें हैंं । शिरोमणि अकाली दल केे माझे के जरनैल बिक्रम सिंह मजीठिया ने के मलकीत सिंह को थापडा दिया । बता दें कि अकाली दल शासन में मलकीत सिंह एयर जंडियाला गुरु में सीवरेज सिस्टम डालने के लिए सरकार से 33 करोड़ पर का बजट पास करा कर लाए थे जिसमें लगभग 18 करोड में इसी काम के लिए वह बर्बाद कर के बीच में ही छोड़कर चले गए जिस दो बार सरकार आने के बाद एक बार अकाली दल और दूसरी बार कांग्रेस की सरकार ने भी 3 साल से ज्यादा समय बीत जाने के बाद दोबारा आरंभ करने की कोशिश नहीं की है क्योंकि मलकीत सिंह ए आर इसको अधूरा ही छोड़ गए थे।
जबकि उसके बाद शिरोमणि अकाली दल बादल की तरफ से विधानसभा हल्का जंडियाला गुरु में सत्ता में बलजीत सिंह जलालउस्मा आये लेकिन अपने 5 वर्ष के कार्यकाल के दौरान उन्होंने ने भी इस लंबित पड़े सीवरेज के काम को पूरा करने के बारे में नही सोचा ।जिसका खामियाजा शिरोमणि अकाली दल बादल की पार्टी को वर्ष 2017 के चुनाव में भुगतना पड़ा ।इसी तरह जो मौजूदा हालातों पर नज़र दौड़ाई जाए तो उसमें में भी शिरोमणि अकाली दल बादल के लिए 2022 के चुनाव काटों की सेज की से कम नही होगी।क्योंकि जो अब 7 जून को राशन कार्ड काटे जैसे मुद्दे को लेकर अकाली दल पंजाब सरकार के खिलाफ रोष प्रदर्शन कर रही है ,इस मामले में हल्का जंडियाला गुरु में राशन कार्ड काटे जाने और गरीबों को गेहूं ना मिलने का मुद्दा काफी छाया रहा लेकिन मलकीत सिंह ए आर द्वारा कभी भी गरीब लोंगो की ज़मीन स्तर पर जाकर सार नही ली ।
इसके इलावा नशा में हो हल्का जंडियाला गुरु हमेशा ही चर्चा का विषय रहा कभी विरोध नही किया ।इन मुद्दों पर आकलन किया जाए तो विधानसभा चुनाव 2022 मलकीत सिंह ए आर के लिए जीतना टेढ़ी खीर से कम नही होगी ।
इस मामले को लेकर जब पूर्व विधायक मलकीत सिंह के बेटे संदीप सिंह ए आर से बात की तो उन्होंने ने सत्ताधारी कांग्रेस पार्टी पर वार करते हुए कहा कि मौजूदा विधायक द्वारा साढ़े तीन वर्ष के कार्यकाल में हल्का जंडियाला गुरु में विकास नहीं किया ।जबकि उनकी पार्टी ने 10 वर्ष के कार्यकाल के दौरान बहुत विकास किया ।लेकिन इनमें वास्तविकता कितनी है यह तो आने वाले चुनाव के वक्त दौरान ही साबित हो पायेगा ।
फ़ोटो कैप्शन :संदीप।सिंह ए आर की फोटो ।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।