सांखौल “पॉलिथीन मुक्त गांव” बनने की ओर अग्रसर
September 8th, 2019 | Post by :- | 89 Views
बहादुरगढ़ लोकहित एक्सप्रेस ब्यूरो चीफ (गौरव शर्मा)

 

गत रविवार को सांखौल गांव में संघर्षशील जनकल्याण सेवा समिति, आंगनवाड़ी वर्करों, स्कूली बच्चों, दुकानदारों व ग्रामवासियों ने मिलकर सामूहिक रूप से गांव को पॉलिथीन मुक्त बनाने की व पॉलिथीन का उपयोग न करने की शपथ ली।
प्रधानमंत्री द्वारा स्वतन्त्रता दिवस पर लोगो से देश को एकल उपयोग प्लास्टिक से मुक्त करने की अपील की गई थी।इसी के तहत रविवार को गांव में जागरूकता रैली निकाली गई। इस अभियान के तहत गांव की सभी 43 परचून की दुकानों व 4 कॉस्मेटिक दुकानों पर जाकर स्टीकर लगाए गए जिसमे लोगो से अपना थैला साथ लेकर आने की अपील की गई।
इसके साथ ही सभी दुकानदारों को समझाया गया कि वे अपनी दुकानों में पॉलिथीन का उपयोग न करें।इसके स्थान पर कागज के लिफाफों व कपड़े के बैग का प्रयोग करें।
इस अभियान में मेजर सुधीर राठी ने ग्रामवासियों को बताया कि पॉलिथीन के कारण 2018-19 में नाले रुकने व उन्हें साफ करने के दौरान लगभग 123 लोगो की मृत्यु हुई ।पॉलिथीन गायो की मृत्यु का भी कारण बनती है। फिर भी लोग इसे छोड़ने को तैयार नही है।
लोगो को यह भी बताया कि जब पॉलिथीन को फेंक दिया जाता है तो इसमे पानी खड़ा होने पर डेंगू मच्छर पैदा होता है और इसके जलाने पर कैंसर कारक गैसे निकलती है।
स्कूली बच्चों ने भी नारे लगाकर व आंगनवाड़ी वर्करो ने भी घर घर जाकर लोगो से पॉलिथीन छोड़ने का अनुरोध किया और लोगो को जूट या कपड़े से बने थैलो का उपयोग करने की सलाह दी।इस अभियान में साथ ही 150 से अधिक कपड़े के थैले भी वितरित किये गए।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।