कोरोना वायरस से घबराने की जरूरत नहीं, एहतियात बरतनी जरूरी:-डीसी अशोक कुमार शर्मा। 
July 4th, 2020 | Post by :- | 23 Views

अम्बाला, ( सुखविंदर सिंह ) उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचने के लिए एसएमएस यानि सामाजिक दूरी, मास्क व सैनीटाईजर को हमें अपने दैनिक जीवन में शामिल करना है। हालांकि जब तक कोरोना की कोई वैकसीन नहीं बनती है, एहतियात के तौर पर हमें उपरोक्त का प्रयोग करते हुए स्वंय सुरक्षित रहना है बल्कि दूसरों को भी इसके लिए प्रेरित करते हुए सचेत रहना है। 

उपायुक्त ने बताया कि अनलॉक-2 के तहत अधिकतर गतिविधियां खोल दी गई हैं, इसका मतलब यह नहीं है कि कोरोना खत्म हो गया है। हमें सचेत होकर सावधानी बरतते हुए इसका मुकाबला करना है। इस वायरस से घबराने की जरूरत नहीं है, कोरोना से जितने भी लोग संक्रमित हुए हैं उनका ईलाज किया जा रहा है और चिकित्सकों के अथक प्रयासों से काफी संख्या में मरीज ठीक होकर अपने घर भी लौट रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि अब अनलॉक के तहत हमें विशेष रूप से सावधानियां बरतनी है क्योंकि सभी गतिविधियां शुरू होने से आवाजाही बढ़ी है। ऐसे में हमें सामाजिक दूरी, मास्क  व सैनीटाईजर के साथ-साथ 20 सैकेंड तक साबुन से पूरी तरह हाथ साफ करना आदि आवश्यक हिदायतों की पालना सुनिश्चित करनी है। 

उपायुक्त ने जानकारी के क्रम में यह भी कहा कि लोगों के सहयोग से काफी हद तक कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोका गया है और आगे भी आशा व्यक्त की कि लोग इन हिदायतों की पालना करते हुए स्वयं सुरक्षित रहेंगे तथा दूसरों को भी इन हिदायतों की पालना निरंतर करने के लिए प्रेरित भी करेंगे। उपायुक्त ने बुजुर्गों से अपील की कि कोरोना संक्रमण के मद्देनजर वे घरों से बाहर न निकलें और साथ 10 साल से कम आयु के बच्चे भी घर में ही रहकर सुरक्षित रहें। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग की हिदायतों की पालना करते हुए हमें कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकना है और इसे हराने का काम भी करना है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।