जिले के चारों ब्लॉक व सभी विभागों में हल्ला बोल विरोध प्रदर्शन किया गया|
July 3rd, 2020 | Post by :- | 130 Views

पलवल (मुकेश कुमार हसनपुर) 03 जुलाई :- केन्द्रीय ट्रेड यूनियनों व सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के आह्वान पर आज जिला के चारों ब्लॉक व सभी विभागों में हल्ला बोल विरोध प्रदर्शन किया गया। जनसेवओं के निजीकरण व 1983 पी टी आई सहित अन्य कर्मचारियों की छंटनी के खिलाफ आयोजित विरोध प्रदर्शनों का नेतृत्व जिला प्रधान राजेश शर्मा व सचिव योगेश शर्मा, पलवल ब्लॉक में प्रधान राजकुमार डागर, सचिव हरकेश सौरोत, होडल में प्रधान उदय वीर सौरोत, सचिव देवेन्द्र हसनपुर के प्रधान अनिल कुमार हथीन में हरीश शर्मा, बिजेंद्र सिंह,बेदपाल,  ने किया।प्रदर्शन के बाद मुख्यमंत्री के नाम मांगों का ज्ञापन उपायुक्त पलवल को सौंपा गया।

जिला प्रधान राजेश शर्मा व सचिव योगेश शर्मा ने बताया कि केन्द्र सरकार कोरोना महामारी व लॉक डाउन की आड़ में कर्मचारियों के ऊपर लगातार हमले बोल रही है।आर्थिक कटौती के साथ-2 कर्मचारियों के सेवा सुरक्षा के नियमों पर हमला किया जा रहा है। सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों को मजबूत करने की बजाय रेल, बिजली, परिवहन, कोयला, तेल, गैस, वायुयान, शिक्षा, स्वास्थ्य जैसे महत्वपूर्ण इकाईयों को निजी हाथों में सौंपने का फैसला किया जा रहा है।

राष्ट्रीय सम्पदा को औने पौने दामों में बेचा जा रहा है। कर्मचारी व मजदूर महामारी के दौरान सरकार से अतिरिक्त राहत की उम्मीद कर रहे थे। उन्होने बताया कि सरकार ने संघ के द्वारा भेजे गए सुझाव पर अमल मत करके पुरानी पैंशन की बहाली नही की जा रही है। स्वास्थ्य ठेका कर्मचारी सहित बिजली के कच्चे कर्मचारियों को सीधे विभाग के रौल पर रखा जाए। उन्होने डी ए,एल टी सी,जी पी एफ से रोक हटाने की मांग की।

उन्होने मांग की कि श्रम कानूनों में पूंजीपतियों के हित में किए गए बदलावों पर रोक लगाकर,जनवादी अधिकारों की बहाली की जाए। नगरपालिका सहित अन्य  विभागीय संगठनों से हुए समझौतों को लागू किया जाए। यूनियन नेताओं ने तेल की कीमतों में बढ़ोत्तरी को वापिस लेने की मांग भी की गई। प्रदर्शन में जिला उपायुक्त द्वारा संशोधित किए जाने वाले रेट को अभी तक लागू नहीं किया गया है। जिसके कारण अलग-2 विभागों में काम करने वाले कच्चे कर्मचारियों को आर्थिक नुकसान उठाना पड रहा है।

प्रदर्शन में  सर्व कर्मचारी संघ के वरिष्ठ उपप्रधान बनवारीलाल, वित्त सचिव देवीसिंह सहजवार, हंसराज डागर, विभागीय नेता जितेन्दर तेवतिया,बिजेंदर सिंह,सरजीत सौरौत,बीरसिंह, राकेश तंवर, बालकिशन शर्मा,सतपाल, चन्दर तेवतिया, वरुण, रमेश डागर, रामजीत राणा ने भी अपने विचार व्यक्त किए।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।