अब विस्तारवाद नही बल्कि विकासवाद का युग–भारत की ताकत से पूरी तरह परिचित है दुनिया:-गृह मंत्री अनिल विज।
July 3rd, 2020 | Post by :- | 32 Views

अम्बाला, ( सुखविंदर सिंह ) गृह, शहरी स्थानीय निकाय एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वीरवार लेह में जाकर सैनिक से मिलकर उनका हौसला बढ़ाने का काम किया है। वहीं सैनिकों द्वारा देश की रक्षा के लिए किए जा रहे कार्यों के लिए सराहना भी की है। इतना ही नहीं लेह के अस्पताल में दाखिल सैनिकों का कुशल क्षेम पूछकर उनके जल्द स्वस्थ होने की भी कामना की। प्रधानमंत्री द्वारा पराक्रमी सैनिकों के बीच जाकर उनका हौसलां बढ़ाना हमारी संस्कृति की अनुकरणीय पहचान है। वीर प्रस्विनी माटी के पराक्री योद्घाओं के बीच लेह में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का सम्बोधन हम सबके लिए राष्टï्रभक्ति की बहुत बड़ी प्रेरक सीख है। अब विस्तारवाद का नही बल्कि विकासवाद का युग है। हिन्दुस्तान ने हर क्षेत्र में अनुसरणीय तरक्की की है और यही तरक्की हमारी सारगर्भित व्यवस्था को प्रतिबिम्बित करती है। 
विज ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में हमारा देश पूरी तरह से सुरक्षित है। समय-समय पर एतिहासिक फैसले लेकर दुशमन को करारा जवाब देने का काम किया गया है। दुशमन ने जब भी हमारे देश की तरफ गल्त तरीके से देखने की कौशिश की, उसको भारतीय सेना ने मुहतोड़ जवाब देते हुए उसे करारा जवाब देने का काम किया है। जवानों के हौसले इतने बुलंद हैं कि उन्होंने दुशमन के घर में जाकर उसे मुहतोड़ जवाब देने का काम करते हंै, यह किसी से छिपा नहीं है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज लेह के अग्रिम क्षेत्र में जाकर जवानों का हौसला बढ़ाने का काम किया है। 
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कुशल नेतृत्व में रक्षा मंत्रालय को सीमाओं की रक्षा एवं सेना बलों को मजबूती के लिहाज से हथियारों को खरीदने की मंजूरी भी दी गई है। इससे भारतीय सेना की आक्रमकता कईं गुणा बढ़ेगी, साथ ही इससे देश मेक इन इंडिया को बल मिलेगा। उन्होंने यह भी कहा कि चीन से तनाव के बीच भारत द्वारा अब 12 सुखोई-30 और 21 मिग-29 खरीदने जा रहा है। सामरिक दृष्टिï से भी भारत की ताकत और बढऩे जा रही है। भारत की ताकत से दुनिया पूरी तरह परिचित है। हम शांति में विश्वास रखते हैं लेकिन वक्त आने पर अपना पराक्रम और शौर्य भी पूरे जज्बे और जनून से प्रदर्शित और परिभाषित करते हैं, यही हमारी पहचान है। उन्होंने कहा कि हमें अपने सेना के जवानों पर पूरा गर्व और आत्मविश्वास है कि वे 24 घंटे हर परिस्थिति में देश की सीमाओं पर अपनी डयूटी को बखूबी कर रहे हैं और उन्हीं की बदौलत हम सुरक्षित हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।