युद्धस्तर पर चलाया जा रहा है, इंटरलॉक टाइल्स लगाने का कार्य।
July 3rd, 2020 | Post by :- | 31 Views

पंचकूला।(मनीषा)  पंचकूला घग्गर पार के सेक्टर 23 से लेकर 28 तक सडक़ों के दोनों तरफ रोड वर्म पर इंटरलॉक टाइल्स लगाने का कार्य युद्धस्तर पर चलाया जा रहा है । जानकारी मुताबिक हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण(एचएसवीपी) के मंडल नंबर 2 के  कार्यकारी अभियंता एन के पायल के अधीन आता है । उनके द्वारा  इस कार्य को कराने के लिए हेमंत शर्मा नामक ठेकेदार ने टेंडर लेने में बाजी मारी है । मिली जानकारी के अनुसार टेंडर के कार्य को कराने के लिए अपनाए गए हथकंडे कथित तौर पर नियम कायदों के बिल्कुल विरुद्ध बताया जा रहा है। इस कार्य में ठेकेदार की मुस्तैदी ने चौका के रख दिया है । डीएन आईटी के मुताबिक  फुटपाथ रोड पर लगभग 3 मीटर इंटरलॉक टाइल व 3 मीटर कच्चा फर्श बनाकर फुटपाथ बनाया जाना था लेकिन ठेकेदार ने डीएनआईटी के पैटर्न से परे हटकर सेक्टर 26 के हर्बल पार्क के सामने फुटपाथ पर लगभग 300 मीटर ट्रैफिक लाइटों तक  सिर्फ इंटरलॉक टाइल्स लगाकर टेंडर को भुनाने का कार्य किया है । बाकी के  फुटपाथों के कार्यों में भी लापरवाही की बात बताई जा रही है । विभाग व ठेकेदार के बीच कोई ना कोई सांठगांठ इससे साफ जाहिर होता है । इस घोलमाल के खेल में आश्चर्यजनक रूप से टाइल्स के रेट ज्यादा हैं और फर्श के कम । ठेकेदार के टाइलों की मोटी रकम पर लोगों ने आपत्ति जताते हुए बताया कि प्राइवेट ठेकेदार के लाखों रुपए की राशि के टेंडर पर करोड़ों रुपए की राशि की हिनासमेंट बिना टेंडर लगा दी,और खुद विभाग ही ठेकेदार की मदद करने में जुटा हुआ है। आपसी मिलीभगत से कानून व प्रावधानों को सरेआम ठेंगा दिखाया जा रहा है। बहरहाल कथित खस्ताहाल से गुजर रही हुड्डा में तैनात नीति नियंताओं  के समक्ष इस प्रकार की कथित धांधली ताज्जुब करने वाला ही प्रतीत होता है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।