डीजल पैट्रोल की कीमतों में लगातार हो रही बढ़ोत्तरी के विरोध में माकपा का जोरदार विरोध प्रदर्शन|
July 2nd, 2020 | Post by :- | 23 Views

पलवल (मुकेश कुमार हसनपुर) 02 जुलाई :- डीजल पैट्रोल की कीमतों में लगातार हो रही बढ़ोत्तरी के विरोध में वामपंथी पार्टियों के राष्ट्रव्यापी विरोधी कार्यवाहियों के तहत माकपा कार्यकर्ताओं द्वारा आज देवीलाल पार्क में इकठ्ठे होकर जोरदार विरोध प्रदर्शन किया। माकपा के वरिष्ठ नेता सोहनपाल चौहान की अध्यक्षता में आयोजित प्रदर्शन का संचालन रूपराम तेवतिया ने किया।

प्रदर्शनकारियों को सम्बोधित करते हुए माकपा के  नेता धर्मचन्द व सोहनपाल चौहान ने बताया कि अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतें कम होने के बावजूद केन्द्र सरकार  लगातार तेल के दामों में बढ़ोतरी कर रही है। उन्होने बताया कि वर्ष 2014 में डीजल पर एक्साइज ड्यूटी 3 रुपए 46 पैसे थी जो केंद्र सरकार ने बढाकर 32 रुपए 86 पैसे कर दिया है।उन्होने आरोप लगाया कि तेल की बढ़ोत्तरी की मार सबसे ज्यादा गरीब मजदूर व किसानों के ऊपर पड रही है। कोरोना महामारी व लॉक डाउन की वजह से बड़े पैमाने पर जीविका खो चुकी जनता को सरकार से अतिरिक्त राहत की उम्मीद थी, लेकिन सरकार ने तेल के दामों में बेतहाशा वृद्धि करके संवेदनहीनता का परिचय दिया है।

इसके विपरीत तेल विक्रेता कम्पनियां व केन्द्र सरकार जनता को ठगने में लगी हुई हैं।उन्होंने बताया कि तेल की कीमतों में बढ़ोतरी के करण मंहगाई में भी बढ़ोत्तरी हो रही है।प्रदर्शन मे केन्द्र सरकार द्वारा कोयला खदानों को पूंजीपतियों को बेचने के विरोध में खदान कर्मचारियों व मजदूरों की तीन दिवसीय हड़ताल का समर्थन करते हुए मांग की गई कि राष्ट्रीय सम्पदा के निजीकरण पर तुरंत रोक लगाई जाए| प्रदर्शन में डॉ रघुबीर सिंह, बीधू सिंह, हरिचन्द वर्मा, दरयाब सिंह, बलजीत शास्त्री, चन्दन सिंह, सबरजीत, भगीरथ बैनिवाल व रमेश चन्द ने भी अपने विचार व्यक्त किए।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।