टिड्डी दल से किसान चिंतित
June 30th, 2020 | Post by :- | 34 Views

नूंह मेवात , ( लियाकत अली )  ।   टिड्डी दल ने नूह जिले के पुनहाना तथा फिरोजपुर झिरका खंड के किसानों की मुश्किल बढ़ा दी है । टिड्डी दल ने किसान के पशु चारे ज्वार – बाजरा की खेती पर सीधा हमला बोला है । कोरोनावायरस के साथ – साथ बरसात में लगातार हो रही देरी से किसान पहले ही चिंतित व परेशान था । रही – सही कसर टिड्डी दल ने पूरी कर दी। सरकार व कृषि विभाग ने टिड्डी दल को रोकने के बड़े – बड़े दावे किए थे , लेकिन उसके बावजूद भी टिड्डी दल ने नूह जिले के दर्जनों गांव में अपना डेरा डाल लिया है। हालांकि कृषि विभाग टिड्डी दल को मारने व भगाने में जुटा हुआ है , लेकिन किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें टिड्डी दल को देखकर साफ देखी जा सकती हैं । किसान बड़ी तादाद में आई टिड्डियों से बेहद परेशान हैं। दरअसल एक तो नूह जिले में पहले ही लगातार बरसात में हो रही देरी व जमीनी तथा नहरी पानी नहीं होने से किसान परेशान था । बरसात में ज्वार / बाजरे की खेती होने के आसार जग रहे थे , लेकिन बरसात के शुरू होने से पहले ही छोटी – छोटी ज्वार बाजरे की फसलों पर टिड्डी दल ने हमला बोल दिया । कपास की खेती पर भी टिड्डी दल का असर साफ देखा जा सकता है । टिड्डी दल इलाके में किसी मधुमक्खी की तरह लगातार भिन्न – भिन्न आ रहा है । आसमान से फसलों तक जहां भी नजर जाती है ।  चारों तरफ टिड्डी दल ही नजर आता है । अब देखना यह है कि टिड्डी दल कब तक जिले में डेरा डाले रहता है और किसानों की फसलों को टिड्डी दल से कितना नुकसान होता है। सरकार व कृषि विभाग टिड्डी दल के हमले से कैसे निपटती है , इस पर भी इलाके के किसानों की नजर लगी हुई है। किसानों ने कहा कि अभी तो टिड्डी दल नूह जिले के पुन्हाना इलाके में आया है । अगर यह कुछ दिन नहीं मारा गया या नहीं भगाया गया तो इसके गंभीर परिणाम किसानों को भुगतने पड़ सकते हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।