कांग्रेस को सिर्फ सत्ता की भूख , देश हित में कोई दिलचस्पी नहीं – कौशल
June 29th, 2020 | Post by :- | 52 Views

– पैसे के लिए परिवारकी भूख ने किया देश का बेड़ा गर्क

दून भाजपा के उपाध्यक्ष कृष्ण कुमार कौशल ने कहा कि कांग्रेस पार्टी एक मात्र एसी पार्टी है जो चुनाव के दौरान जनता का साथ चाहती है और जब देश पर कोई विपत्ति या संकट आता है तो वह देश का साथ देने की बजाए दुश्मन देश का साथ देती है। कांग्रेस को सत्ता की भूख है लेकिन देश हित में उसकी कोई भी दिलचस्पी नहीं है। उन्होंने आरोप लगाया कि पैसे के लिए कांग्रेस के एक परिवार की भूख ने देश को बर्बाद कर दिया है।

पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के ब्यान पर प्रश्नचिंह लगाते हुए कहा कि पूर्व अध्यक्ष को भारत की सेना पर एतबार होने की बजाए चीन के दुष्प्रचार पर इतना भरोना क्यों है। राहुल गांधी ने ट्वीट में दावा किया कि चीन के सैंनिक भारत की सीमा में दाखिल हो गए है।लेकिन प्रधानमंत्री खामोश है। राहुल गांधी को न चीन के दुष्पचार पर यकीन करना चाहिए और न ही दूसरो को ऐसे दुष्प्रचार का शिकार बनाना चाहिए। राहुल गांधी जिस भाषा का प्रयोग कर रहे उस तरह के ब्यान दुश्मन देश के नेता भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ नहीं करते है। इससे सेना का मनोबल गिर रहा है। देश की जनता इस प्रकार के ब्यान से आहत होती है। कांग्रेस ने किसी भी शहीद के लेकर चिंता नहीं जताई। बल्कि राजीव गांधी फाउंडेशन को चीन से चंदा मिला। इस फाउंडेशन की अध्यक्ष सोनिया गांधी है। यही नहीं पीएम नेशनल रलीफ फंड से पैसे राजीव गांधी फाउंडेशन में डाले गए। पैसे के लिए परिवार की भूख ने देश को खोखला कर दिया है। रिश्वत लेकर रखी है तभी तो चाईना का साथ दे रही है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के कार्यकाल में चीन ने वर्ष 1962 में अकसाई चिन पर तथा वर्ष 2008 में यूपीए सरकार के शासन में चुमूर से तिया पिगनक व चाबजीघाटी जिसकी लंबाी 250 मीटर है। यूपीए शासन में ही देमजोक , दुगंटी व दूमचेले इलाकों को गवाया। प्रधानमंत्री जब चीनी सेना को मुहंतोड़ जवाब दे रहे है गलवान घाटी से चीनी सेना को एक किमी पीछे हटा दिया है तो देश का साथ देने की बजाए कांग्रेसी नेता देश को हतोत्साहित करने में लगे है। चीन की विस्तारीकरण की नीति के खिलाफ भारत के साथ अमेरिका, इंगलेैड, जर्मनी, फ्रांस, इजराईल जैसे देश खड़े हो गए है। प्रधानमंत्री नरेंद्र कुमार मोदी की ओर से बुलाई सर्वदलीय बैठक में कांग्रेस ने अपनी फजीहत कराई। कांग्रेस जब संकट के समय में देश के हित में काम नहीं करती है तो चुनाव के दौरान कांग्रेस को वोट मांगने का कोई अधिकार नहीं है। सत्ता की भूखी कांग्रेस देश का विकास में रोड़ा अटकाने के सिवाय कुछ नहीं करती है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।