ग्रामीण सफाई कर्मचारियों ने अपनी मांगों को लेकर जिला स्तरीय प्रदर्शन किया।
June 28th, 2020 | Post by :- | 66 Views
नूंह मेवात , ( लियाकत अली )  ।  ग्रामीण सफाई कर्मचारियों ने अपनी मांगों को लेकर जिला स्तरीय प्रदर्शन किया। प्रदर्शन में जिले के सैकड़ों ग्रामीण सफाई कर्मचारियों ने भाग लिया। प्रदर्शन से पहले ग्रामीण सफाई कर्मचारियों की बीडीपीओ कार्यालय नूंह पर एक सभा हुई ,उसके बाद नूंह लघु सचिवालय तक विरोध प्रदर्शन किया गया नूंह उपायुक्त के मार्फत सीएम मनोहरलाल को कर्मचारियों के मांगों का ज्ञापन भेजा गया।  आपको बता दें ग्रामीण सफाई कर्मचारी अपनी मांगों को  पिछले सात दिनों से धरना प्रदर्शन बीडीपीओ कार्यालय नूंह पर चल रहा था जिसका नूंह लघु सचिवालय पर समापन किया गया।
यूनियन नेताओं  ने कहा की अगर समय रहते सरकार ने कर्मचारियों की मांगों का समाधान नही किया तो तो आन्दोलन को और तेज किया जाएगा। आगामी 3 जुलाई  को केंद्रीय ट्रेड यूनियनों के आह्वान पर ब्लॉक स्तर पर जोरदार प्रदर्शन किये जाएंगे और 6 से 8 जुलाई को राज्यव्यापी हड़ताल करने से भी गुरेज नही किया जाएगा तथा आगामी आंदोलन की रणनीति बनाने के लिए आगामी 30 जून को यूनियन कार्यकर्ताओं की राज्य स्तरीय कार्यकर्ता बैठक रोहतक में करके आगामी आंदोलन की घोषणा की जाएगी।
ग्रामीण सफाई कर्मचारियों को संबोधित करते हुए यूनियन के नेता महेश ने कहा की कोरोना योद्धा बताने वाली हरियाणा सरकार ग्रामीण सफाई कर्मचारियों का भयंकर शोषण कर रही है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2013 में शहरी और ग्रामीण सफाई कर्मचारियों को 8100 रूपये मिलते थे लेकिन आज भाजपा सरकार ने भेदभाव करते हुए शहरी सफाई कर्मियों को न्यूनतम 15000 रुपये दिए जा रहे हैं और ग्रामीण क्षेत्र में कार्यरत कर्मचारियों को 12500 रुपये देकर शोषण किया जा रहा है। जिसको किसी सूरत में बर्दाश्त नही किया जा सकता।
  यूनियन नेताओं ने कहा की सरकारी आदेश के बावजूद  9 माह गुजर चुके हैं उसके बाद भी आज तक ग्रामीण सफाई कर्मचारियों को ईपीएफ के दायरे में कवर नही किया गया। जिसको लेकर कर्मचारियों में भारी गुस्सा बढ़ता जा रहा है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।