कैथल में नकदी सहित बैंक एटीएम चोरी व पशु चोरी करने वाले कुखयात अंतरराज्जीय चोरगिरोह से सीआईए-टू व यूपी पुलिस की रात के समय यूपी में मुठभेड़, दो कुख्यात आरोपी गिरफतार
June 27th, 2020 | Post by :- | 25 Views

कैथल, लोकहित एक्सप्रैस, (ब्यूरो चीफ विशाल चौधरी ) । एसपी शशांक कुमार सावन के आदेशानुसार सीआईए-2 प्रभारी इंस्पेक्टर प्रदीप कुमार व एएसआई प्रदीप कुमार की टीम तथा थाना सदर बाजार पुलिस सहारनपुर यूपी पुलिस के साथ मिलकर एक संयुक्त मुहीम के तहत दिनांक 26 जून की देर रात्री दिल्ली रोड छिंदबाणा मोड के पास बैरियर लगाकर चैकिंग कर रहे थे। अचानक आई दो महेंद्रा पीकअप गाडियों को रुकने का ईशारा करने पर दोनो गाडी तेजी से अलग-अलग रास्तों से वापिस भागने लगी, जिसके दौरान पुलिस की अलग-अलग टीमों द्वारा दोनों गाडियों का पीछा किया गया। जिसके दौरान खेतों की तरफ गई एक गाडी में मौजूद बदमाशों द्वारा स्वम को पुलिस से घिरा देखकर पुलिस टीम पर फायर कर दिया गया। सीआईए-टू व सहारनपुर पुलिस द्वारा अदमय साहस का परिचय देते हुए दो बदमाशों को काबु कर लिया गया, जबकि अन्य अधेरें का फायदा उठाकर फरार हो गए।
कार्यालय पुलिस अधीक्षक कैथल में 27 जून को आयोजित प्रैस वार्ता के दौरान एसपी शशांक कुमार सावन ने बताया कि सीआईए-टू व सहारनपुर पुलिस द्वारा काबु किए गये आरोपियों की पहचान फरमान वासी बैगी नाजर थाना गंगोह जिला सहारनपुर यूपी तथा काला उर्फ गुलशेर उर्फ बालु वासी पभारी जिला यमुनानगर के रुप में हुई। आरोपियों के कब्जे से एक महेंद्रा पीकअप ब्लैरो गाडी, 12 बोर गन, 3 जिंदा कारतूस, एक चले कारतूस का खोल, पंजाब व यूपी क्षेत्र से उखाडी हुई दो कटी एटीएम मशीन व 4 लाख 50 हजार रुपए नकदी तथा वारदातों में प्रयुक्त किए जाने वाले काफी उपकरण बरामद कर लिए गये, तथा पुलिस द्वारा आगामी जांच की जा रही है। पूछताछ के दौरान आरोपियों ने कबुला कि वे ब्लैरो पीकअप गाड़ी की पावर ज्यादा होनें कारण एटीएम को रस्सा डालकर उखाड लेते तथा किसी सुनशान स्थान पर उपरकरणों से एटीएम को तोडकर एटीएम से पैसे निकालकर बांट लेते तथा मशीन को यमुना नदी के आसपास लगी प्लेजों में छिपा देते थे। जांच के दौरान यह आरोपियों के खिलाफ दिल्ली, यूपी, हरियाणा, पंजाब, उतराखंड में काफी मामले दर्ज है, जिनमें आरोपियों द्वारा कैथल में विभिन्न आधा दर्जन वारदातों को अंजाम देना कबुला गया है।
एसपी शशांक कुमार सावन ने बताया कि इससे पुर्व सीआईए-टू पुलिस टीम की 17 जून की रात को दिनांक 12 जून की रात क्योडक एसबीआई एटीएम चोरी तथा माता गेट कैथल स्थित पीएनबी एटीएम चोरी प्रयास मामले की जांच करते हुए एक गुप्त सुचना मिलने उपरांत थाना कुंजपुरा जिला करनाल क्षेत्र के गांव शेरगढ़ टापु नजदीक नाकाबंदी किए हुए थे। रात्री करीब 10 बजे यूपी की तरफ से पुल के रास्ते एक संदिगध पीकअप गाड़ी आई, जिसके केबिन में दो युवक तथा पीछे दो अन्य युवक मौजूद थे, जो सभी मुंह ढ़ापे हुए थे। संदिगध पीकअप सवारों द्वारा सामने पुलिस को देखकर अचानक गाडी बैक करके भागने का प्रयास किया गया, तो उनकी तरफ बढी सीआईए टीम पर आरोपियों द्वारा गोली दागी गई, जिसके जवाब में पुलिस द्वारा भी एक राउंड फायर किया गया। इस मध्य संदिगध पुल के रास्ते वापिस ना जाकर नदी की पटरी-पटरी मोदीपुर गांव की तरफ भागे, जिनका पुलिस द्वारा पीछा किया गया, परंतु अंधेरे व कच्चे रास्ते पर धूल उडने कारण आरोपी फरार हो गए। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि उपरोक्त घटना के बाद सीआईए-टू पुलिस सहारनपुर यूपी पुलिस के साथ निरंतर समन्व्य कायम रखते हुए आरोपियों की गिरफतारी हेतू सांझी मुहीम चलाए हुए थी, जिसमें अंतत पुलिस को 26 जून की रात इंटरस्टेट एटीएम चोरगिरोह का भंडाफोड करने में सफलता प्राप्त कर ली गई। उन्होंने बताया कि उपरोक्त दोनों आरोपियों को माननीय न्यायालय की मार्फत नियमानुसार कार्रवाई अंतर्गत प्रोटैक्शन वारंट पर गिरफतार किया जाएगा। काबु किए गये उपरोक्त दोनों आरोपियों पर विभिन्न राज्यों में करीब 29 संगीन मामले दर्ज होने बताए गये है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।