पलवल के 15 गांवों को “म्हारा गांव-जगमग गांव” योजना के तहत 24 घंटे पावर सप्लाई उपलब्ध कराने का विधायक दीपक मंगला ने बटन दबाकर किया शुभारंभ।
June 26th, 2020 | Post by :- | 205 Views

पलवल (मुकेश कुमार हसनपुर) 26 जून :- विधानसभा क्षेत्र पलवल के विधायक दीपक मंगला ने शुक्रवार को गांव चांदहट सब स्टेशन से पलवल विधानसभा क्षेत्र के 15 गांवों को म्हारा गांव-जगमग गांव योजना के तहत 24 घंटे पावर सप्लाई उपलब्ध कराने का बटन दबाकर शुभारंभ किया।

विधायक दीपक मंगला ने कार्यक्रम में जानकारी देते हुए बताया कि प्रदेश के मुख्यमंत्री के अथक प्रयास से पलवल विधानसभा में जनकल्याणकारी योजनाओं और विकास की भरमार कर रखी है। इसी कड़ी में म्हारा गांव-जगमग गांव योजना के तहत पलवल विधानसभा के 66 के.वी. चांदहट सब स्टेशन के 11 के.वी. किठवाडी फीडर के 8 गांव नामत: सिहोल, मीसा, रसूलपुर, होशंगाबाद, खेडला, डकोरा, रोनीजा, लोहागढ तथा 66 के.वी. पलवल सबस्टेशन के 11 के.वी. ओल्ड बाटा फीडर के तीन गांव नामत: असावटा, छज्जूनगर, मुनीरगढी एवं 66 के.वी. न्यू बाटा पलवल सबस्टेशन के 11 के.वी. रूंधि फीडर के चार गांव नामत: बाता, सेलोटी, अमरोली, बमारियाका में 24 घंटे बिजली दी जाएगी।

विधायक ने कहा कि कोविड-19 के संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए एक-दूसरे से दो गज की दूरी बनाए रखें। घरों से बाहर तभी निकलें जब अति आवश्यक कार्य हो तथा घर से बाहर निकलने पर फेस मास्क का प्रयोग करें।

कार्यक्रम में दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम के अधीक्षक अभियंता एस.एस. सांगवान ने बताया कि म्हारा गांव-जगमग गांव योजना के तहत जिला पलवल के 41 गांवों को 24 घंटे बिजली देने का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि 31 मार्च 2021 तक जिला पलवल के सभी गांवों को म्हारा गांव-जगमग गांव योजना के तहत 24 घंटे बिजली देने का लक्ष्य रखा गया है।

कार्यक्रम में दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम के कार्यकारी अभियंता शिवराज, एसडीओ चांदहट ब्रजमोहन शर्मा, पंचायत समिति पलवल के चेयरमैन प्रेमचंद शर्मा, पलवल निगरानी समिति के चेयरमैन मुकेश सिंगला, एसएचओ चांदहट थाना देवेंद्र कुमार, गांव गुरवाडी के सरपंच जगत, प्रहलादपुर के सरंपच विष्णु, रसूलपुर के सरपंच राजकुमार, चांदहट मंडल अध्यक्ष जोगेंद्र, खंड सदस्य प्रवीण सहित गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।