पेरामेडिकस वॉलंटियर को कोविड-19 सक्रमण से बचाव व सावधानियों से अवगत कराया गया|
June 25th, 2020 | Post by :- | 127 Views

पलवल (मुकेश कुमार हसनपुर) 25 जून :- सिविल सर्जन डा. ब्रह्मदीप सिंह ने जिला प्रशासन पलवल व जिला स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण समिति, रेडक्रॉस सोसाइटी व अपोलो मेडिस्किल्स के सहयोग से स्थानीय पंजाबी धर्मशाला पलवल में पेरामेडिकस वॉलंटियर के लिए आयोजित कोविड-19 जागरूकता कार्यक्रम में गुरूवार को स्वयंसेवकों को कोविड-19 सक्रमण से बचाव व सावधानियों की आवश्यक जानकारियों से अवगत करवाया।

उन्होंने कहा कि इस सात दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम में सभी पैरामेडीकोज कोविड-19 के बारे मे पूर्णतय जानकारी प्राप्त करें ताकि भविष्य मे आवश्यकता पडने पर सभी वॉलंटियर स्वास्थ्य विभाग पलवल के साथ कंधे से कंधा मिला कर खड़े हो सके और कोरोना जैसी महामारी को हराने में विभाग का सहयोग कर सकें।
गुरूवार को प्रशिक्षण के चौथे दिन धूमन कक्षों का उपयोग व थर्मल स्क्रीनिंग अथवा थर्मल कैमरों का उपयोग करने, हैंड सैनेटाजर, डिस्पेंसर्स के उपयोग के बारे में बताया और साथ में प्रवेश बिंदू पर सामाजिक दूरी के उपाय, स्वच्छता कार्य, स्थल पर कोई सांझाकरण उपकरण नहीं लाना व बाहरी लोगों का प्रवेश प्रतिबंधित करने के बारे में जानकारी दी। उसके बाद कोविड-19 में सार्वजनिक स्वास्थ्य अधिकारियों की भूमिका के बारे में अवगत कराया, जिसके अंदर विकेंद्रीकृत सरकारी कार्यान्वयन और प्रतिक्रिया संपर्क अनुरेखण, उपचार, परिक्षण, आपूर्ति के बारे में जानकारी दी। उसके बाद पोषण और कोविड-19 के बारे में जानकारी दी गई, जिसमे अपनी रोगप्रतिरोधक क्षमता बढाने के लिए पौष्टिïक खान-पान के बारे में बताया तथा उपस्थिति को शुद्ध व शाकाहारी भोजन खाने के लिए प्रेरित किया।

उन्होंने स्वास्थ्य जांच पर जोर देते हुए कहा कि कार्यस्थल पर कमजोर समूहों के लिए (बुजुर्ग) लोग, कुपोषित लोग, जो लोग बीमार या प्रतिरक्षाविहीन और गर्भवती महिलाएं हैं, उनकी स्वास्थ्य जांच बहुत जरुरी है। उन्होंने मनोवैज्ञानिक मुद्दों का प्रबंधन और भेदभाव के बारे में जानकारी दी कि कैसे कोविड-19 के दौरान मनोवैज्ञानिक मुद्दों का प्रबंधन करना चाहिए। कोविड-19 पॉजिटिव मरीजों को काउंसलिंग के दौरान बताना चाहिए कि इस बीमारी से अपनी सोच को सकरात्मक रखते हुए डरना नहीं लडना चाहिए। साथ ही उन्होंने ट्रेनिंग में हाथ धोने की महत्वता से सभी को अवगत कराया कि हम सबको 20 सैकेंण्ड तक साबुन से हाथ धोने चाहिए।

उन्होंने हाथ धोने के पांच स्टेप तकनीक से सभी को अवगत कराया।

सिविल सर्जन डॉ. ब्रह्मदीप ने बताया कि इस तरह के कार्यक्रम की शुरुआत पूरे प्रदेश मे जिला पलवल से की जा रही है। उन्होंने सभी वॉलेंटियर को ध्यान पूर्वक कार्यक्रम मे भाग लेने व इससे मिली जानकारी को सभी आमजन तक पहुंचाने का आह्वïन किया, जिससे कि जिला पलवल में इस महामारी को खत्म किया जा सके। उन्होंने  सभी वालेंटियर्स की कोविड-19 महामारी में सामने आकर सेवा करने के भाव की प्रशंसा की।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।