भारती फाउंडेशन को “ग्रेट प्लेस टू वर्क 2020” के रूप में प्रमाणित किया गया
June 25th, 2020 | Post by :- | 150 Views

भारत की शीर्ष 100 कंपनियों के बीच काम करने के लिए मान्यता प्राप्त एकमात्र गैर-सरकारी संगठन

नई दिल्ली,   :    भारती फाउंडेशन को, जो भारती एंटरप्राइजिस की लोकोरोपकारी संस्था है, शीर्ष 100 में एकमात्र ऐसे गैर-सरकारी संगठन के रूप में उदीयमान हुआ है, जिसे ‘ग्रेट प्‍लेस टू वर्क 2020’ प्रमाणन से सम्मानित किया गया है। कार्यस्थल की संस्कृति के मूल्यांकन में ‘गोल्ड स्‍टैंडर्ड’ माने जाने वाला, Great Place to Work® सिर्फ कर्मचारियों के फीडबैक और संगठन में जन पद्धतियों की गुणवत्ता के आधार पर सर्वश्रेष्ठ कार्यस्थलों का अभिनिर्धारण करता है।

पूर्णतया निष्पक्ष और अप्रभावित परिणाम सुनिश्चित करने के लिए, यह प्रमाणीकरण एक वैश्विक बाह्य पार्टी द्वारा किए गए गुमनाम कर्मचारी सर्वेक्षण के परिणाम पर आधारित है।

अवार्ड प्रदान करने वाला संगठन, Great Place to Work® इंस्टीट्यूट, उच्च विश्वास, उच्च कार्यप्रदर्शन संस्कृति का सृजन, सतत-संपोषण और अभिनिर्धारण करने के लिए वैश्विक प्राधिकारी है।

यह अत्यधिक लोकप्रिय प्रमाणन सभी उद्योगों में सबसे इच्छित सम्मानों में से एक है। 2020 के प्रमाणन के लिए 20 से अधिक उद्योगों से 1,000 से अधिक कंपनियों ने अपना नामांकन किया था; शीर्ष 100 की सूची में सूचना प्रौद्योगिकी, वित्तीय सेवाओं, कृषि, विनिर्माण, विक्रय, आतिथ्य आदि सहित विभिन्न क्षेत्रों की कंपनियां शामिल थीं। भारती फाउंडेशन की उपलब्धि इसे यह अर्हता प्राप्त करने के लिए एकमात्र गैर-लाभकारी संगठन बनाती है। भारती फाउंडेशन को 2018 और 2017 में ‘टॉप 100 ग्रेट प्लेस टू वर्क’ के बीच भी चुना गया था।

भारती फाउंडेशन की CEO ममता सैकिया ने यह खिताब हासिल करने अपनी खुशी जाहिर की और कहा, “एक बार फिर हमें कार्य करने के लिए भारत की शीर्ष 100 कंपनियों के बीच चुना गया है। मैं इस सच्चाई से बहुत प्रेरित हुई हूँ कि भारती फाउंडेशन के हर कर्मचारी को वास्तव में विश्वास है कि हम अपने स्कूलों में पढ़ाई करने वाले वंचित बच्चों के जीवन को बदल सकते हैं; यह उस जुनून और प्रतिबद्धता से स्पष्ट है जो हम जमीन पर देखने को मिलता है। इसके अलावा, एक अत्यधिक सशक्त और विश्वसनीय लीडरशिप टीम, सशक्तीकरण का अहसास, बेजोड़ टीम भावना और नवप्रर्वतन का डीएनए, ये सब साथ मिलकर भारत फाउंडेशन को कार्य करने के लिए सबसे अच्छी कंपनियों में से एक बनाते हैं।”

प्रतिष्ठित प्रमाणीकरण उन संगठनों द्वारा जीता है, जो पांच आयामों पर उत्कृष्टता हासिल करते हैं — विश्वसनीयता, सम्मान, निष्पक्षता, गर्व और सौहार्द। यह उपलब्धि अपने कर्मचारियों के लिए एक सुरक्षित और सुखी कार्यस्थल बनाने और अपने सभी संबंधित आंतरिक हितधारकों के सशक्तीकरण के लिए सकारात्मक परिवर्तन को प्रेरित करने की भारती फाउंडेशन की विचारधारा को विशेष तौर पर दर्शाती है।

फाउंडेशन का मूल फोकस संस्था के अंदर सकारात्मकता, सद्भाव और शांति की संस्कृति का पालन-पोषण करते हुए पूरे ग्रामीण भारत में बच्चों की शिक्षा पर केंद्रित है। पूरे वर्ष सर्वांगीण विकास और नवप्रवर्तन को प्रोत्साहित करने के वातावरण में कर्मचारियों के कौशल का संवर्धन करने के कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। भारती फाउंडेशन अपने सभी कर्मचारियों के लिए नए अवसरों और अनुभवों का सृजन करने पर विश्वास करती है और यह हासिल करने के लिए आगे बढ़ती है।

Great Place to Work® Institute* का संक्षिप्त परिचय
Great Place to Work® कार्यस्थलों पर High-Trust, High-Performance CultureTM का निर्माण, सतत-संपोषण और सम्मानित करने के संबंध में एक वैश्विक प्राधिकारी है। हमने महान लीडर्स से सीखकर, लाखों कर्मचारियों का सर्वेक्षण करके और दुनिया भर में हजारों बेहतरीन कार्यस्थलों की जांच करके अपना परिप्रेक्ष्य तैयार किया है। हम सभी छह महाद्वीपों में 60 से अधिक देशों में व्यवसायों, लाभ-निरपेक्ष और सरकारी एजेंसियों को सेवा प्रदान करते हैं, मिशन हर साल 10,000 से अधिक संगठनों को स्पर्श करना है। हम दुनिया भर के संगठनों की मदद करने, उनकी महान संस्कृति का निर्माण, सतत-संपोषण करने और बढ़ाने के उद्देश्‍य से, सभी उद्योगों और सभी आकारों की कंपनियों के साथ हमारे कार्य से हासलि बारीक परख करते हुए फलते-फूलते हैं।

Great Place to Work® Institute ने 30 से अधिक वर्षों से महान कार्यस्थलों की विशेषताओं पर पथप्रदर्शक शोधकार्य किया है। हमारा मानना है कि सभी संगठन महान कार्यस्थल बन सकते हैं, और हमारा मिशन उन्हें सफल बनाने में मदद करना है। High-Trust, High Performance Culture™का सृजन और सतत-संपोषण करने में मदद करने के लिए, Great Place to Work® Institute हर साल दुनिया भर में 10,000 से अधिक संगठनों के साथ साझेदारी करता है।

भारत में, Great Place to Work® Great Place to Work® सर्टिफिकेशन के माध्यम से और बेस्ट वर्कप्लेस की शोधकार्य-आधारित वार्षिक सूचियों के माध्यम से संगठनों को सम्मानित करता है।

*यहां दी जानकारी को https://www.greatplacetowork.in/ से लिया गया है।

भारती फाउंडेशन का संक्षिप्त परिचय

वर्ष 2000 में भारती एंटरप्राइजिस की लोकोपकारी संस्था के रूप में भारती फाउंडेशन की स्थापना की गई थी। यह प्राथमिक, प्रवेशिका, वरिष्ठ माध्यमिक एवं उच्चतर शिक्षा के क्षेत्र में कार्यक्रमों को क्रियान्वित और सहायता करती है। यह फाउंडेशन अपनी सर्वोत्कृष्ट पहल सत्य भारती स्कूल प्रोग्राम के माध्यम से 2006 से ग्रामीण भारत में छह राज्यों में लड़कियों पर फोकस के साथ हजारोंअल्पसुविधा-प्राप्त बच्चों का मुफ्त उत्कृष्ट शिक्षा उपलब्ध कराती है।

इस प्रोग्राम की सीखों और सर्वश्रेष्ठ पद्धतियों का 2013 से सत्य भारती क्वालिटी स्पोर्ट प्रोग्राम के माध्यम से कई राज्यों और संघशासित क्षेत्रों में सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले लाखों विद्यार्थियों को हस्तांतरण करके उत्कृष्ट शिक्षा के प्रभाव का विस्तार किया जा रहा है। 2014 से चलाए जा रही स्वच्छता पहल, सत्य भारती अभियान शौचालयों तक पहुँच उपलब्ध कराकर और समुदायों में स्वभावजन्य बदलाव लाकर पंजाब के जिलों में स्वच्छता परिस्थितियों में सुधार ला रहा है। कुल मिलाकर, फाउंडेशन के प्रोग्रामों ने संचयी रूप से समुदाय के 20 लाख से अधिक सदस्यों पर प्रभाव डाला है।

जैसा कि हमारा देश कोविड -19 से संघर्ष कर रहा है, भारती फाउंडेशन ने यह सुनिश्चित किया है कि छात्रों को घर पर ही उत्कृष्ट शिक्षा मिलना जारी रहे। सत्य भारती स्कूल के शिक्षकों ने कक्षा-वार व्हाट्सएप ग्रुप/वॉयस कॉल के माध्यम से छात्रों के साथ संपर्क बनाए रखा है। शिक्षण-विद्याप्राप्ति की विधियों को दूरस्थ शिक्षा के लिए अनुकूलीकृत किया गया है। इसी प्रकार, सत्य भारती क्वालिटी सपोर्ट प्रोग्राम की टीम ने छात्रों और अभिभावकों तक पहुंचने के लिए सरकारी स्कूल के शिक्षकों और प्रधानाचार्यों के साथ मिलकर काम किया है और कई सरकारी पहलों को क्रियान्वित करने में भी मदद की है।

संपर्क:
_____________________________________________
इन पर हमें फॉलो करें:
ट्विटर, फेसबुक, लिंक्डइन, यूट्यूबऔर इंस्टाग्राम

 

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।