जंडियाला गुरु के ज्योतिसर इलाके में हुए कत्ल का 7 दिनों के बाद भी हाथ खाली ।
June 25th, 2020 | Post by :- | 181 Views
जंडियाला के ज्योतिसर इलाके में हुए मर्डर मामले में 7 दिन के बाद भी पुलिस के हाथ खाली ।

जंडियाला गुरु कुलजीत सिंह
बता दे कि 18 जून की रात को करीब 9.45 बजे ज्योतिसर इलाके में दिल दहला देने वाला कत्ल हुआ था। इस मामले अज्ञात हमलावरों ने मृतक बलविंदर सिंह उर्फ बबलू पुत्र हरभजन सिंह के माथे पर औऱ उसकी बैकसाइड पर गोलियां मारी गई थी ।इस मर्डर के चलते इलाके के लोग अभी भी ख़ौफ़ज़ादा है ।जबकि जंडियाला पुलिस इस मामले में जांच कछुआ चाल कर रही है जो कि 7 दिन बीत जाने के बाद भी अभी तक अज्ञात हमलावरों के ढूंढ नही पाई है जो कि पुलिस के लिए बड़ी चुनौती है । इसी तरह अवैध हथियार का मिलना और नशे की बिक्री का धड़ल्ले से होना भी जुर्म को बढ़ावा देता है ।क्योंकि अक्सर नशा तस्करों के पास ही ज़्यादातर अवैध हथियार होते है ।जिसकी मिसाल कई नशा तस्करों से पकड़े गए हथियार का मिलना है। जुर्म को रोकने के लिए सबसे अहम मुद्दा है अवैध नशे का कारोबार जो जंडियाला गुरु के बहुत सारे इलाकों में फैला हुआ है ।
बता दे कि फॉरेनर नामक नशा तस्कर ने ही पुलिस कर्मी की गोली मारकर हत्या की थी ।बावजूद इसके पुलिस ने बड़े बड़े मगरमच्छों को पकड़ने के प्रति इतनी दिलचस्पी नही दिखाई ।
अगर  कत्ल जैसे गम्भीर मामलों में  इतनी धीमी चाल से जांच हो तो कातिलों को ढूंढ पाना पुलिस टेढ़ी खीर से कम नही होगा ।
इस मामले को लेकर जब एस पी डी देहाती गौरव तुरा से बात की गई तो उन्होंने कहा कि वह भी इस मामले को गंभीरता से ले रहें है और डी एस पी जंडियाला गुरु को इस मामले में औऱ तेज़ी लाने के लिए निर्देश देंगे ।इसलिए कि बबलू के क़त्ल मामले का पर्दाफ़ाश हो सके ।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।