अवैध रूप से नाला खुदवाने की शिकायत
June 24th, 2020 | Post by :- | 22 Views

नूंह मेवात , ( लियाकत अली )  ।  गांगोली गांव के लोग इन दिनों बेहद परेशान हैं ।ग्रामीणों की परेशानी की वजह पड़ोसी जिला पलवल के मंडकोला गांव के किसानों द्वारा खुदवाया जा रहा नाला है । दो जिलों के किसान इस नाले को लेकर आमने सामने हैं । नूह जिले के गांगोली गांव के दर्जनों लोगों ने बुधवार को डीसी पंकज नूह से मुलाकात की और  दिल्ली – मुम्बई एक्सप्रेसवे के नीचे सोहना – मंडकोला रोड के साथ – साथ बन रहे इस नाले को रुकवाने की मांग की । ग्रामीणों के मुताबिक इस नाले की वजह से उनकी फसलों को काफी नुकसान हर साल होता है , जो नाला खोदा जा रहा है । वह 5 फुट गहरा , 8 फुट चौड़ा है । जिसे कंक्रीट से मनाया जा रहा है । ग्रामीणों के मुताबिक या अवैध रूप से बन रहा है । गांव में खेतों में खड़ी फसल में इस नाले की वजह से पानी भर जाता है । जिसके चलते ना तो समय पर बिजाई हो पाती है और अगर बिजाई हो भी जाती है , तो पानी की निकासी नहीं होने की वजह से फसलें खराब हो जाती हैं । तकरीबन 25 सालों से गांगोली गांव के लोग इस नाले की वजह से परेशान हैं । ग्रामीणों की माने तो 2 जिलों के किसान इस नाले को लेकर कई बार आमने – सामने हो चुके हैं । यहां तक कि दोनों जिलों के आला अधिकारियों को भी घटनास्थल पर पहुंचना पड़ा है । अगर नाले के निर्माण को नहीं रोका जाता है , तो दो गांव में झगड़े की नौबत आ सकती है । गांगोली गांव के लोगों का कहना है कि जो अवैध नाला बनाया जा रहा है , यदि संभव हो तो इस पानी को पलवल जिले के मंडकोला गांव की सीमा में ही नहर / नाले में डलवाया जाए , ताकि गांगोली गांव के किसानों की फसलें सेम की वजह से खराब ना हो। ग्रामीणों के मुताबिक डीसी पंकज नूह ने भरोसा दिलाया है कि जल्द ही इस बारे में पलवल जिला प्रशासन के अधिकारियों से बातचीत करेंगे । साथ ही समस्या का समाधान कराया जाएगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।