नशे के खिलाफ बराड़ा पुलिस का जागरूकता अभियान जारी नशा है अपराधों की जड़ – एसएचओ वीरेन्द्र
June 23rd, 2020 | Post by :- | 38 Views
नशे के खिलाफ बराड़ा पुलिस का जागरूकता अभियान जारी  नशा है अपराधों की जड़ – एसएचओ वीरेन्द्र

बराड़ा, (जयबीर राणा, थंबड़)| नशे के खिलाफ बराड़ा पुलिस का जागरूकता अभियान जारी बराड़ा थाना प्रभारी विरेंद्र वालिया ने आज नपा कार्यालय में नपा सचिव जितेंद्र शर्मा और नपा प्रधान पति हनी पाहवा की मौजूदगी में नशे के खिलाफ एक सेमिनार को किया संबोधित जिसमें उन्होंने कहा कि नशा सभी अपराधों की जड़ है और नशे के कारण युवा अपना अनमोल जीवन बर्बाद कर चुके हैं और इसके साथ ही बर्बाद होता है उनके परिवार का समाजिक स्तर| यह बात बराड़ा के थाना प्रभारी एसएचओ विरेन्द्र सिंह वालिया ने कही| उन्होंने जीवन को हाँ , नशे को ना जैसे स्लौगनो से लोगो को किया जागरुक।
थाना प्रभारी वीरेंद्र सिंह ने अपने-अपने एरिया मे अलग अलग तरीकों से आमजन को नशा ना करने प्रति जागरुक करने का आह्वान किया| उन्होंने कहा कि आमजन खासकर युवा पीड़ी को नशे से होने वाले शारीरिक तथा वितीय दुष्प्रभावों के बारे विस्तार से समाझाया जाऐ। विरेन्द्र वालिया ने कहा कि नशा ही सभी प्रकार के अपराधों की जड़ है। आज का युवा यदि अपने जीवन मे कामयाब होना चाहते हैं, तो नशे से दूर रहना होगा। नशा करने वाला व्यक्ति ही नही बल्कि उसका पुरा परिवार पतन की ओर बढ़ता चला जाता है। नशा एक ऐसी लत है जिसे छोडना मुश्किल तो है लेकिन नामुमकिन नही। यदि आम नागरिक इस के प्रति जागरूक होगा तो नशे की दलदल से बाहर निकला जा सकता है। देश को केवल कानून के द्वारा नशा मुक्त नहीं किया जा सकता। स्वास्थय विभाग का भी कर्तव्य बनता है कि जीवन रक्षक दवाईयों के रूप में प्रयोग होनें वाली दवाईयों का प्रयोग केवल डॅाक्टर की सलाह अनुसार ही बाजार में बेची जाए। प्रायः देखने में आता है कि कुछ जीवन रक्षक दवाईयों का अत्यधिक प्रयोग नशे के लिए किया जाता है। जिस पर केवल सम्बंधित विभाग ही समय-समय पर दवा विक्रेताओं को चैक करकेे उनके विरूध कानूनी कार्यावाही की जाए, ताकि नशें में संलिप्त लोगों को नशा पूर्ति करने में मुश्किलें आये। आज के युग में अभिभावकों का कर्तव्य बनता है कि वह अपने बच्चों को अच्छे संस्कार देने के साथ-साथ उनकी दैनिक गतिविधियों पर भी ध्यान रखें। नागरिकों का यह भी नैतिक कर्तव्य है कि वह अपने आस-पाास नशे के कारोबार मेें लगे लोगों पर नजर रखें। कानून चाहे जितना भी सख्त क्यों ना हो आम जनता के सहयोेग के बिना किसी काम का नही है। नशा देश को लकड़ी के घुन की तरह बर्बाद कर रहा है। नशे के धन्धें में लगे लोगों पर आम नागरिक की सहायता से ही रोक लगाई जा सकती है। ज्यादातर नशा तस्करी करने वालें अबोध बालकों को ही अपना शिकार बनातें है इसके अतिरिक्त इस प्रकार के धन्धें में संलिप्त करने के लिए झुग्गी-झोपड़ी तथा गरीब लोगों को पैसे का लालच देकर इनका प्रयोग करते है। पुलिस अधिकारियों/कर्मचारियों का भी कर्तव्य बनता है कि झुग्गी झोपडियों में रहने वालें लोगों पर ज्यादा ध्यान दें तथा समय-समय पर इस प्रकार के लोगों को नशे के दुश्परिणामों के बारे में अवगत करवायें। खासकर युवा बच्चों को नशे से दूर रखने का प्रयास किया जाए।
उन्होंने कहा कि बराड़ा पुलिस का जागरूकता अभियान जारी है। बराड़ा थाना प्रभारी वीरेंद्र वालिया ने आज नपा कार्यालय में नपा सचिव जितेंद्र शर्मा और नपा प्रधान पति हन्नी पाहवा की मौजूदगी में नशे के खिलाफ एक सेमिनार को संबोधित किया। थाना प्रभारी ने नशे का समूल नाश करने के लिऐ लोगों से चर्चा भी की। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में कई शैक्षणिक संस्थान होने से भी कुछ बाहरी युवाओं के नशे की चपेट में आने की चर्चाएं हैं। इसी वजह से चिट्टा, चरस आदि जैसी नशे की आदतों को बढ़ावा मिलता है। उन्होंने कहा कि नशे के समूल नाश के लिए हम लोगों को आगे आना होगा और युवा अवस्था मे अपने बच्चों और आसपास के युवाओं पर नजर बनाकर रखनी होगी। जिसे भी नशा आपूर्ति करने वालों गैर सामाजिक तत्वों की जानकारी लगे उसे तुरंत पुलिस को सूचना देनी चाहिये।
इस अवसर पर भाजपा जिला सचिव रोकी राणा, पार्षद पति लक्की राणा एवं अन्य गणमान्य लोग शामिल रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।