श्री दक्षिणमुखी बालाजी धाम जनकल्याण सेवा ट्रस्ट के द्वारा कोरोना के कारण बन्द मन्दिरो को खोलने के लिए आयोजित की गई बैठक
June 23rd, 2020 | Post by :- | 18 Views

जयपुर,(सुरेन्द्र कुमार सोनी) । श्री दक्षिणमुखी बालाजी धाम जन कल्याण सेवा ट्रस्ट के समस्त पदाधिकारियों पुजारी सेवादारों ने मिलकर एक बैठक का आयोजन किया। बैठक में निर्णय लिया गया कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए सरकार की गाइडलाइन एवं दिशा निर्देश अनुसार सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करते हुए हम सभी मंदिर खोलने के लिए तैयार हैं। इसके लिए सरकार हमें अनुमति प्रदान करें। बैठक में यह भी तय किया गया कि:
*मंदिर के प्रवेश द्वार पर सैनिटाइजर एवं हाथ धोने के लिए साबुन की समुचित व्यवस्था की जाएगी।
*मंदिर में 6-6 फीट की दूरी पर गोले बनाकर सोशल डिस्टेंसिंग की पालना की जाएगी।
*प्रवेश द्वार पर पैर धोने के लिए पानी की समुचित व्यवस्था की जाएगी।
*मंदिर में प्रतिदिन अल्कोहल रहित सैनिटाइजर से मंदिर परिसर को सैनिटाइजर किया जाएगा।
*मंदिर में बुजुर्गों वह बच्चों को प्रवेश निषेध रहेगा।
*मंदिर में किसी भी चीज या वस्तु को नहीं छूने को लेकर पोस्टर लगाए जाएंगे, और व्यवस्थापक इसका संपूर्ण ध्यान रखेंगे।
*स्त्री पुरुषों के लिए दर्शनार्थ अलग-अलग लाइन की व्यवस्था की जाएगी।
*मंदिर में प्रसाद व माला इत्यादि चढ़ाना निषेध रहेगा।
*दर्शनार्थियों को मंदिर में रुकने नहीं दिया जाएगा दर्शन करा के उन्हें दूसरे रास्ते से उन्हें बाहर कर दिया जाएगा।
*बुजुर्गों व बच्चों को भगवान के ऑनलाइन दर्शन कराए जाएंगे।
मंदिरों को खोलने को लेकर की गई बैठक में श्री दक्षिणमुखी बालाजी जन कल्याण सेवा ट्रस्ट के अध्यक्ष स्वामी बालमुकुंदाचार्य जी महाराज, महंत पुरुषोत्तम दास जी महाराज, उपाध्यक्ष चंद्रप्रकाश झालानी, सचिन सुनील सोनी, कोषाध्यक्ष गौरव बाजपेई, दिनेश मित्तल, पुजारी रामनरेश, गोविंद नारायण भातरा आदि उपस्थित रहे। और समस्त कार्यकारिणी ने कहा कि सरकार की तरफ से हमें कोई और दिशा निर्देश मिलते हैं। तो हम उन्हें मानते हुए, उनकी पालना करते हुए मंदिर खोलने को तैयार है। सरकार हमें मंदिर खोलने की अनुमति प्रदान करें।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।