रतपुर क्रिकेट टूर्नामेंट में बतौर मुख्यातिथि पहुंचे दीपांशु बंसल
June 22nd, 2020 | Post by :- | 29 Views

— कहा, खेलो से युवाओ में बढ़ता है उत्साह,नशों से रहते है दूर

पिंजौर (हरपाल सिंह)। अब्दुल्लापुर व रतपुर के युवाओं द्वारा क्रिकेट टूर्नामेंट का आयोजन नगर खेड़ा के ही खेल ग्राउंड में करवाया गया जिसमें कांग्रेस छात्र इकाई, एनएसयूआई आरटीआई सेल के राष्ट्रीय कन्वीनर व युवा नेता दीपांशु बंसल बतौर मुख्यातिथि खिलाडिय़ों व युवाओ का प्रोत्साहन करने पहुंचे। दीपांशु बंसल ने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि खेलों के माध्यम से युवा नशों से दूर रहते है और इलाके को तरक्की में अपना योगदान देते है। वहीं युवा कोरोना से जंग जितने के लिए खेलों को बढ़ावा देने का काम कर रहे है। दीपांशु बंसल के साथ मुकुल कौशिक, नानू, सजल, शुभम कौशल, निखिल प्रताप सिंह, मैनपाल आदि पहुंचे जहां निनी, पममु, आशीष, अमन, अरविंद, संदीप, लाडी, रफीक, सोनी, दीपक, छज्जू, रोडा समेत आयोजकों ने भव्य स्वागत किया। टीम लाइन अप के दौरान इंट्रोडक्शन करवाते हुए आयोजको द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का पूर्णत: पालन किया गया और मैच के दौरान कोरोना महामारी को देखते हुए सभी एतिहाद बरते गए।
मुख्यातिथि दीपांशु बंसल ने आयोजको का आभार जताते हुए कहा कि एक तरफ इलाके में नशा कारोबारियों की चपेट में युवा नशों को अपना जीवन बना रहे है तो दूसरी ओर युवा खेलो के माध्यम से जीवन बना रहे है,कोई भी परिस्थिति हो खेलो को बढ़ावा देने के लिए हर सम्भव कोशिश की जाएगी। दीपांशु ने यह भी कहा कि बिना प्रॉपर स्टेडियम, बिना उपयुक्त मार्गदर्शन व बिना किसी संसाधनों के इलाके के युवा अपनी खेल की प्रतिभा को आगे बढ़ा रहे है जबकि इलाके में हर ब्लाक में एक एक खेल स्टेडियम होना चाहिए जिससे कोई परेशानी न हो पर लेकिन सरकारी उदासहीनता और भेदभाव के चलते कोई सुविधा नही दी जाती। टूर्नामेंट में 20 टीमों ने हिस्सा लिया जिसमे युवाओ में जोश देखने लायक था।
यह बहुत ही चिंता का विषय है कि वर्षो बाद भी हमारे इलाके में खिलाडिय़ों को टूर्नामेंट्स के लिए एक भी बेहतर स्टेडियम व आधुनिक सुविधाए उपलब्ध नही है,एक तरफ सरकार जहां खेलो को बढ़ावा देने का दावा करती है तो वही सुविधाओ के नाम पर कुछ नही है जबकि खेल टूर्नामेंट्स आयोजको को स्वयं स्टेडियम तैयार करवाने पड़ते है और यह खिलाडिय़ों का खेलो के प्रति जोश है कि अपनी प्रतिभा को आगे लाते है।
दीपांशु बंसल ने कहा कि आज के समय मे युवाओ को नशो से दूर रहकर खेलो में अपनी प्रतिभा को आगे लाना चाहिए और उन्हें बहुत खुशी है कि इलाके के अधिकतर युवा खेलो में आगे आ रहे है।नशा युवाओ को जकडऩे का काम कर रहा है और दिन प्रतिदिन चिट्टा, स्मैक,कोकेन आदि नशे युवाओ को बर्बाद कर रहे है जबकि दूसरी ओर युवा खेलो के माध्यम से शरीर को तंदरुस्त करने का काम कर रहे है।दीपांशु ने खिलाडिय़ों को आश्वसत किया कि जब जब खिलाडिय़ों को उनकी जरूरत पड़ेगी तब तब वह उनके साथ खड़े रहेंगे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।