एक दिवसीय जिला स्तरीय पशु प्रदर्शनी का आयोजन |
September 7th, 2019 | Post by :- | 88 Views

हसनपुर पलवल (मुकेश वशिष्ट) :-  हरियाणा पशुधन विकास बोर्ड के उपाध्यक्ष मेहरचंद गहलौत ने कहा कि आगामी 9 सितंबर को पलवल जिले के गाँव धतीर के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय परिसर में प्रात: 09 बजे एक दिवसीय जिला स्तरीय पशु प्रदर्शनी का आयोजन किया जाएगा, जिसमें मुर्राह भैंस, झोटा, झोटी, देसी गाय, साहीवाल (दुग्ध व शुष्क अवस्था) संकर नस्ल गाय, गौशाला की देशी गाय, उच्च नस्लीय भेड, बकरी एवं सुकर प्रजाति के पशु भाग लेंगे और उच्चकोटी के पशुओं के पालकों को मौके पर ही इनाम की राशि जिला उपायुञ्चत द्वारा वितरित की जाएगी। उपाध्यक्ष मेहरचंद गहलौत ने यह जानकारी शनिवार को स्थानीय लोक निर्माण विभाग विश्राम गृह में प्रैस संवाददाताओं के साथ प्रैस वार्ता के दौरान दी। इस अवसर पर उनके साथ पशुपालन एवं डेयरिंग विभाग पलवल की उपनिदेशक डा.नीलम आर्या भी मौजूद थी।

हरियाणा पशुधन बोर्ड के वाईस चेयरमैन मेहरचंद गहलौत ने प्रैस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि पलवल जिले में पशुपालन को बढावा देने के लिए पशुपालन एवं डेयरिंग विभाग द्वारा गांव धतीर के राजकीय वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय में सोमवार को एक दिवसीय जिला स्तरीय पशुधन प्रदर्शनी का आयोजन किया जाएगा। प्रदर्शनी में पशुपालकों को लगभग 1 लाख 3 हजार 800 रूपए की राशी पुरूस्कार के तौर पर वितरित की जाएगी। उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मादी ने संकल्प लिया है कि किसानों की आमदनी को दोगुना किया जाए, इसीक्रम में पशुपालन एवं डेयरिंग विभाग किसानों को पशुपालन के प्रति जागरूक कर रहा है। विभाग द्वारा जिला स्तर पर पशुधन प्रदर्शनी आयोजित की जा रही है।

पशु प्रदर्शनी में भाग लेने वाले पशुओं को उनकी नस्ल के आधार पर प्रथम, द्वितीय व तृतीय श्रेणी के अनुसार पुरूस्कार वितरित किए जाएंगे। वाईस चेयरमैन ने कहा कि पशुपालन एवं डेयरिंग विभाग ने आवारा पशुओं की समस्या से निजात दिलाने के लिए गायों द्वारा बछड़ी पैदा करने के लिए प्रदेश के सभी पशु चिकित्सालयों में सीमन सप्लाई किया गया है। इस सीमन से गायों में केवल बछड़ी पैदा होगी। यह सीमन पशुपालकों को सद्ब्रिसडी पर मात्र 400 रूपए में प्रदान किया जाएगा। इस सीमन का प्रयोग करके कृत्रिम गर्भाधान से उन्नत नस्ल की बछिया पैदा होगीं।

मेहरचंद गहलौत ने कहा कि हरियाणा सरकार ने प्रदेश के सभी पशुओं का डाटा एकत्रित कर पोर्टल पर डालने का भी निर्णय लिया है। पोर्टल पर प्रत्येक पशु का विवरण होगा। पोर्टल पर पशुओं से संबंधित बीमारी और टीकाकरण के बारे में भी अपडेट डाले जाएंगे। प्रदेश के पशुओं के बारे में एक बटन दबाकर पोर्टल के माध्यम से ली जा सकती है। पशुओं के बीमा करने की योजना भी आरंभ कर दी गई है। उन्होंने पशुपालकों से आह्वाहन किया कि पशुपालक अपने प्रत्येक पशुओं का बीमा अवश्य करवाएं। उन्होंने कहा कि पशुपालन एवं डेयरिंग विभाग द्वारा चलाई गई जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ पशुपालकों ने उठाया है परिणामरूवरूप जनगणना के अनुसार पशुओं की संक्चया में बढ़ोतरी हुई है।

पशुपालन एवं डेयरिंग विभाग पलवल की उपनिदेशक डा. नीलम आर्या ने बताया कि पलवल जिले में हरियाणा प्रदेश देश का पहला ऐसा राज्य है जिसने सेञ्चस सोर्टेड सीमन का प्रयोग किया है। इस सीमन को शोध के बाद तैयार किया गया है। इसका प्रयोग करने से केवल बिछड़ी ही पैदा होगी। उन्होंने बताया कि मुहंखुर और गलघोटू बीमारी की रोकथाम के लिए पहली बार एक वैञ्चसीन का प्रयोग किया गया है। जिले में पशुपालकों को पशुपालन के लिए जागरूक किया जा रहा है। सरकार की योजना का लाभ पशुपालकों को दिया जा रहा है। डा. नीलम आर्य ने सभी पशुपालको से आह्वाहन किया है कि इस प्रदर्शनी में अपने उच्च नस्लीय पशुओं को लाकर बढ-चढ कर भाग लेकर पशु प्रदर्शनी में भाग लेने वाले पशुओं का बीमा व टैगिंग करवाएं तथा नजदीकी पशुचिकित्सालयों में कार्यरत पशुचिकित्सको से संपर्क कर उनकी सेवाएं प्राप्त करें। इसके अतिरिक्त प्रदर्शनी में कृषि विभाग, उद्यान व बागवानी विभाग व मत्सय विभाग द्वारा भी किसानो के कल्याणार्थ लाभकारी योजनाओं की जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी।

 

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।