योग हमारी भारतीय संस्कृति की पहचान है : पाडला
June 21st, 2020 | Post by :- | 25 Views

कैथल, लोकहित एक्सप्रैस, (ब्यूरो चीफ विशाल चौधरी ) ।युवा भाजपा नेता एवं समाजसेवी गौरव मित्तल पाडला ने कहा कि योग हमारी भारतीय संस्कृति की पहचान है। योग धर्म, आस्था और अंध विश्वास से परे एक सीधा विज्ञान है। जीवन जीने की कला भी योग में निहित है, इसलिए हमें योग परम्परा को अपनाकर अपने स्वास्थ्य को प्राथमिकता देते हुए अपने जीवन का सुधार करना चाहिए। कोरोना महामारी के चलते गौरव पाडला आज अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर अपने प्रतिष्ठान पर योग कर रहे थे। उन्होंने कहा कि योग गुरू स्वामी रामदेव ने न केवल देश में, बल्कि विदेशों में भी प्राचीन परम्परा को आगे बढ़ाया है। इस मामले में देश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने योग को अंतर्राष्ट्रीय पहचान दिलाकर योग को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहुंचाने का काम किया है।

योग हमारे शारीरिक,मानसिक और अध्यात्मिक स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है। युवा नेता ने कहा कि योग के माध्यम से आत्मिक संतुष्टि, शांति और ऊर्जावान चेतना की अनुभूति प्राप्त होती है, जिससे हमारा जीवन तनाव मुक्त तथा हर दिन सकारात्मक ऊर्जा के साथ आगे बढ़ता है। हमारे देश की ऋषि परम्परा योग को आज विश्व भी अपना रहा है। भारत की प्राचीन पद्धति का आज दुनिया अनुसरण कर रही है, जो भारत के लिए गौरव की बात है। योग से हमारा शरीर स्वस्थ रहता है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।