विधायक नरेश कौशिक के 2300 करोड़ रुपए के विकास के दावे झूठे व हवा हवाई : राजेंद्र जून
September 7th, 2019 | Post by :- | 202 Views

बहादुरगढ़ लोकहित एक्सप्रेस ब्यूरो चीफ (गौरव शर्मा)

कांग्रेस के बहादुरगढ़ हलके के पूर्व विधायक राजेंद्र सिंह जून ने गौरेया टूरिस्ट कॉम्पलेक्स में एक प्रेस वार्ता का आयोजन किया। पत्रकारों से बातचीत करते हुए पूर्व विधायक राजेंद्र सिंह जून ने सबसे पहले पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा को कांग्रेस विधायक दल का नेता व चुनाव कमेटी का चेयरमैन तथा राज्यसभा सांसद कुमारी सैलजा को हरियाणा कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त करने पर मीडिया के माध्यम से पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्षा सोनिया गांधी व हरियाणा कांग्रेस के प्रभारी गुलाम नबी आजाद का आभार जताया। पत्रकारों से बातचीत करते हुए पूर्व विधायक राजेंद्र जून ने कहा कि हरियाणा प्रदेश में कर्ज से दबे किसान आमहत्याएं कर रहे है, युवा रोजगार के लिए तरस रहे है। हरियाणा में बेरोजगारी का आकड़ा हरियाणा में 28. 7 फीसदी हो गया है, महिलाओं पर बढ़ते अपराध के कारण महिलाओं के मन में असुरक्षा का माहोल बना हुआ है। दुकानदार, व्यापारी जीएसटी व मंदी की मार से त्रस्त है। पीने के पानी के बेहताशा दाम बढाकर जनता की जेब पर आर्थिक बोझ डाला जा रहा है। लोगों को पीने का पानी भी दूषित मिलता है, कर्मचारी आए दिन अपनी मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन करते रहते है, कानून व्यवस्था का दिवाला निकला हुआ है, अपराध में हरियाणा की गिनती नंबर वन पर होती है, सरकारी स्कूलों में शिक्षा की लचर स्थिती है, दुपहिया व चार पहिया वाहनों के हजारों रूपये का चालान काटकर वाहन चालकों को परेशान किया जा रहा है, सरकारी अस्पतालों में गरीब लोगों को सुविधाएं व दवाईयां नहीं मिलती, फिर किस मुंह से हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल जन आशीर्वाद यात्रा निकाल रहे है। राजेंद्र जून ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल व भाजपा विधायकों को प्रदेश की जनता से आशीर्वाद मांगने की बजाय माफी मांगनी चाहिए क्योंकि 2014 में जो झूठे वादे करके उन्होंने सत्ता हथियाई थी उन वादों को पूरा करने की बजाय भाजपा नेताओं ने बाद में अपनी पार्टी के वादों को चुनावी जुमले बताए थे। राजेंद्र जून ने कहा कि हुड्डा सरकार में शिक्षा, चिकित्सा, खेल, विकास व सुविधाओं में पूरे देश में नंबर वन राज्य हरियाणा को खट्टर सरकार ने बर्बाद करने का काम किया है। पूर्व विधायक ने कहा कि भाजपा नेता सबका साथ सबका विकास का नारा देते है और सत्ता के माध्यम से खुद का विकास व जनता का विनाश करने में लगे हुए है।
विधायक के 2300 करोड़ रुपए के विकास के दावे झूठे व हवा हवाई
पूर्व विधायक राजेंद्र जून ने कहा कि जन आशीर्वाद यात्रा लेकर बहादुरगढ़ पहुंचे सीएम मनोहर लाल खट्टर व भाजपा विधायक नरेश कौशिक अपने कार्यकाल में बहादुरगढ़ हलके में विकास पर अब तक 2300 करोड़ रुपए खर्च होने के दावे कर रहे थे जोकि पूरी तरह से झूठे है। हलके की सम्मानित जनता विकास व मूलभूत सुविधाओं के लिए भाजपा विधायक व सरकारी कार्यालयों के चक्कर काटने को मजबूर है। राजेंद्र जून ने कहा कि विधायक नरेश कौशिक हलके की सम्मानित जनता को बताए कि उन्होंने अगर हलके के विकास पर 2300 करोड़ रुपए खर्च किए है तो जनता आज भी दूषित पानी पीने को मजबूर क्यो है। शहरी क्षेत्र व गांवों में लोगों को बिजली क्यों नहीं मिलती। सडक़े क्यों टूटी पड़ी है। सरकारी अस्पताल में गरीब लोगों को दवाईयां क्यों नहीं मिलती। राजेंद्र जून ने कहा कि भाजपा विधायक नरेश कौशिक के हलके में 2300 करोड़ रुपए के विकास करवाने के दावे बिल्कुल झूठे व हवा हवाई है।

भाजपा राज में पिछड़ा बहादुरगढ़ हलका
पूर्व विधायक राजेंद्र जून ने बताया कि उनके विधायक कार्यकाल में तात्कालीन सीएम भूपेंद्र हुड्डा व लोकसभा सांसद दीपेंद्र हुड्डा के मार्गदर्शन में हलके की जनता की दिल्ली आवागमन की सुविधा के लिए अंर्तराष्ट्रीय स्तर की मेट्रो रेल सेवा लाने का काम किया जिसका आज रोजाना हजारों लोगों को फायदा मिल रहा है। इसी तरह जसोरखेडी में अंर्तराष्ट्रीय स्तर का परमाणु अनुसंधान केंद्र लाने का काम किया मगर भाजपा सरकार ने इसे आगे बढ़ाने की बजाय पांच साल से ठंडे बस्ते मेें डाल रखा है। इसी तरह हुड्डा सरकार में शिक्षा, बिजली, पेयजल की बेहतर सुविधाएं उपलब्ध करवाने के साथ साथ विकास कार्यों की बदौलत आमजन को मूलभूत सुविधाएं दिलवाने का काम धरातल पर किया गया था। हुड्डा सरकार में बहादुरगढ़ हलका तेज गति से विकास की और अग्रसर था। मगर 2014 में भाजपा की सरकार बनने के बाद भाजपा विधायक नरेश कौशिक की नाकामी व मुख्यमंत्री की बेरूखी के कारण बहादुरगढ़ हलके में विकास का पहिया पूरे पांच साल थमा रहा। हलके में विकास व सुविधाओं से संबंधित बहादुरगढ़ हलके में कोई एक बडा प्रोजेक्ट आना तो दूर की बात हुड्डा सरकार में मंजुर व शुरू हुए विकास कार्यों को पूरे पांच साल में वर्तमान भाजपा विधायक नरेश कौशिक पूरा करवाने में नाकाम साबित हुए है। राजेंद्र जून ने पत्रकारों को बताया कि कहा कि लाइनपार को शहर सेे जोडऩे के लिए उन्होंने अपने विधायक कार्यकाल में हुड्डा सरकार में अंडरपास बनाने की योजना मंजुर करवाकर इसकी लागत की लगभग 33 करोड़ रूपयें की धनराशि रेलवे विभाग में जमा करवाने के बावजूद बहादुरगढ़ हलके के भाजपा विधायक नरेश कौशिक 2014 से लेकर 2019 तक के अपने पांच साल के कार्यकाल में अंडरपास को भी बनवाने में पूरी तरह से नाकाम साबित हुए। राजेंद्र जून ने कहा कि विधायक नरेश कौशिक व मुख्यमंत्री मनोहर लाल मेें छत्तीस का आकड़ा है। विधायक नरेश कौशिक से सीएम मनोहर लाल की नाराजगी किसी से छुपी हुई नहीं है और इन्ही कारणों का खामियाजा बहादुरगढ़ हलके की जनता पिछले पांच साल से भुगत रही है।
सत्ता हेतु भाजपा को भाईचारा खराब करने से भी परहेज नहीं
राजेंद्र जून ने कहा कि भाजपा की झूठ, लूट व फूट की पोल जनता के समक्ष पूरी तरह से खुल चुकी है। प्रदेश की जनता ने अपनी आंखों से देख लिया है कि भाजपा को सत्ता हासिल करने के लिए समाज में सदियों से कायम आपसी भाईचारें को खराब करने से भी कोई परहेज नहीं है। पूर्व विधायक राजेंद्र जून ने कहा कि विधानसभा चुनाव में हरियाणा में कांग्रेस की सरकार बनेगी और मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा बनेंगे तब फिर से बहादुरगढ़ हलके सहित पूरे प्रदेश मेंं विकास की बयार तेज गति से चलेगी। राजेंद्र जून ने कहा कि भूपेंद्र हुड्डा की कथनी व करनी में जरा भी अंतर नहीं है जो वादे उन्होंने प्रदेश की जनता से किए है उन्हें सत्ता में आने पर प्राथमिकता के आधार पर लागू किया जाएगा। राजेंद्र जून ने कहा कि प्रदेश की जनता विधानसभा चुनाव का इंतजार कर रही है ताकि अपनी वोट की चोट से जनविरोधी व तानाशाही खट्टर सरकार को सत्ता से हटाकर भूपेंद्र सिंह हुड्डा के कुशल नेतृत्व में कांग्रेस की सरकार बनाने का जनादेश दिया जा सके। प्रेस वार्ता में विधायक राजेंद्र सिंह जून के साथ पूर्व चेयरमैन आजाद राठी, पूर्व चेयरमैन तेजबीर दलाल, वरिष्ठ कांग्रेस नेता श्रीनिवास गुप्ता, जगदीश नंबरदार, अमित पंडित कसार, अनिल बाल्मीकी, इंद्र राठी, दर्शन सैनी, सचिव सुरेंद्र छिल्लर आदि मौजूद रहे।
फोटो कैप्शन:- प्रेस वार्ता मेें पत्रकारों से बातचीत करते हुए पूर्व विधायक राजेंद्र सिंह जून।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।